Ads (728x90)

मुसीबत में फसें बच्चों की मदद के लिए डायल करें 1098 – रामेश्वर प्रसाद

 प्रतापगढ़! जिले में बाल अधिकारों के संरक्षण हेतु ब्लाक व् ग्राम स्तरीय बाल संरक्षण समितियों को प्राथमिकता के आधार पर सक्रिय करें. उक्त विचार कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए  जिला कार्यक्रम अधिकारी पवन कुमार यादव ने चाइल्डलाइन-1098 व तरुण चेतना द्वारा अफीम कोठी सभागार मे बाल संरक्षण समितियों की सक्रियता हेतु आयोजित बाल विकास अधिकारियों की कार्यशाला में व्यक्त किया. जिला कार्यक्रम अधिकारी के कहा कि  ब्लॉक व ग्राम स्तर पर गठित  समितियों की बैठक करके उसकी सूचना पन्द्रह मार्च तक सभी ब्लाकों से आ जाना चाहिए ताकि समितियों को सक्रिय किया जा सके।

      कार्यशाला में चाइल्डलाइन इण्डिया फाउण्डेशन नईदिल्ली के कार्यक्रम अधिकारी  रामेश्वर विश्वकर्मा ने बताया कि चाइल्ड हेल्प लाइन 1098, चौबीस घंटे काम करता हैं जो मुसीबत मे फंसे बेसहारा बच्चों की निःशुल्क मदद  के लिए है। इस अवसर पर चाइल्डलाइन प्रतापगढ़ के निदेशक नसीम अंसारी ने चाइल्ड लाइन की कार्य प्रणाली पर चर्चा करते हुए बताया कि ब्लॉक व गांव स्तर पर बाल संरक्षण समिति गठित हो जाने से जनपद में बाल अधिकारों के हनन में कमी आएगी. श्री अंसारी ने कार्यशाला  के उद्देश्यों पर प्रकाश डालते हुए कहा कि जुनायिल जस्टिस एक्ट के तहत सभी बच्चों की देखभाल व सुरक्षा करना हम सबकी जिम्मेदारी है।  इसी क्रम में जिला प्रोवेशन अधिकारी रन बहादुर बर्मा ने  बाल अधिकारों के विषय मे चर्चा करते हुए समितियों की सक्रियता पर जोर दिया और कहा कि बच्चों को कन्या सुमंगला जैसी योजनाओं का लाभ दिलाना भी हमारी जिम्मेदारी है. श्री वर्मा ने कन्या सुमंगला व स्पांसरशिप योजना के बारें में विस्तार से जानकारी दी.

     कार्यशाला के मुख्य प्रशिक्षक जिला बालसंरक्षण अधिकारी अभय शुक्ला ने बाल संरक्षण समितियों के गठन व प्रक्रिया पर चर्चा करते हुए यौन अपराधों से बालिकाओं की सुरक्षा अधिनियम पाक्सो, निशुल्क अनिवार्य शिक्षा का अधिकार अधिनियम, बाल एवं किशोर श्रम अधिनियम व बाल विवाह निषेध अधिनियम के बारे में  विस्तृत जानकारी दिया। जिला बाल संरक्षण अधिकारी अभय शुक्ला ने कहा कि बच्चों का अधिकार सुनिश्चित करने के लिए ऐसे बच्चे जिन्हें मदद की आवश्यकता हो तो इसकी सूचना चाइल्डलाइन 1098 पर अवश्य दे। इस कार्यक्रम में मो. समीम, संदीप यादव, अभय, रीना देवी, हकीम अंसारी, अरशद, राहुल गुप्ता, आजाद आलम सहित सभी बाल विकास परियोजना अधिकारी व मुख्य सेविकाएँ उपस्थित र

Post a comment

Blogger