Ads (728x90)

 भिवंडी ।एम हुसेन। वंचित बहुजन अघाड़ी के महाराष्ट्र बंद के आंदोलन का भिवंडी में कोई ख़ास असर नहीं  दिखाई दिया । भिवंडी के व्यस्ततम  क्षेत्र  धामनकर नाका में प्रदर्शन करने के लिये वंचित बहुजन अघाड़ी के कार्यकर्ता वहां की दुकानों आदि को बंद कराने के प्रयास कर रहे थे। लेकिन वहां  उपस्थित  पुलिस ने उन्हें हिरासत में ले लिया, जिसके कारण उनका आंदोलन ही खत्म हो गया ।पुलिस द्वारा कार्यकर्ताओं को हिरासत में लिये जाने के थोड़ी देर बाद ही दुकानें आदि पुनः  खोल दी गई ।हालांकि महाराष्ट्र बंद के आह्वान को लेकर भिवंडी में पुलिस का कड़ा बंदोबस्त किया गया था। शहर के प्रमुख चौराहों सहित विभिन्न क्षेत्रों  में भारी संख्या में पुलिस बल खो तैनात किया गया था ।
      बतादें कि महाराष्ट्र बंद के इस आंदोलन में वंचित बहुजन अघाड़ी के ठाणे जिलाध्यक्ष सुनील भगत के नेतृत्व में अंकुश बचुटे,बुद्धेश जाधव,शशिकांत जाधव,अक्षय भोईर,बालाजी कांबले एवं नियाज अहमद चायवाला सहित सैकड़ों कार्यकर्ता शामिल थे । जो सुबह धामनकर नाका  क्षेत्र  की दुकानों को बंद कराने का प्रयास कर रहे थे ।लेकिन सहायक पुलिस आयुक्त नितिन कौसडीकर के नेतृत्व में भोईवाड़ा पुलिस स्टेशन के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक कल्याणराव कर्पे एवं सुभाष कोकाटे के साथ भारी संख्या में  उपस्थित पुलिस अधिकारियों एवं कर्मचारियों ने दुकानों आदि को बंद कराने का प्रयास कर रहे वंचित बहुजन अघाड़ी के कार्यकर्ताओं को हिरासत में ले लिया । जिसके कारण वंचित बहुजन अघाड़ी का आंदोलन खत्म हो गया और  इसके बाद धामनकर सहित अन्य  क्षेत्रों  की बंद दुकानें पुनः खोल  दी गई । 

Post a comment

Blogger