Ads (728x90)

वरिष्ठ कांग्रेस नेता के वर्किंग कमेटी मेम्बर बनने से बढ़ा जिले का सियासी ओहदा, सोनिया तथा राहुल व प्रियंका के प्रति आभार जताने का जारी है सिलसिला

प्रतापगढ़:  आजादी के आन्दोलन में भी बेल्हा की अपनी संघर्ष की एक अलग गाथा रही है। आजादी के बाद भी प्रतापगढ़ ने सियासत के पटल पर एक से बढ़कर एक कीर्तिमान बनाये रखने का आज तलक सिलसिला जारी रखा है। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता प्रमोद तिवारी तो जिले की ही नही प्रदेश और देश के सियासी पटल पर एक के बाद एक रिकार्ड बनाते हुए बेल्हा की पहचान को नित प्रति चार चांद लगाते आ रहे है। जिले की रामपुर खास विधान सभा सीट से एक ही पार्टी और एक ही निर्वाचन क्षेत्र से लगातार नौ-नौ बार कांग्रेस के विधायक का गिनीज बुक का रिकार्ड हो या फिर सूबे में पार्टी के लगातार पांच पांच बार कांग्रेस विधान मंडल दल के नेता का रिकार्ड हो या फिर देश के सर्वोच्च सदन राज्यसभा में निर्विरोध पार्टी के बैनर से पहुंचने का रिकार्ड यह सब प्रमोद तिवारी की योग्यता और संसदीय विधा में निपुणता की बड़ी उपलब्धि प्रतापगढ़ के नाम आ सकी है। कांग्रेस जैसे देश के पुराने राजनैतिक दल में अभी तक वर्किग कमेटी में पहुंचने का प्रतापगढ़ का इतिहास का एक पन्ना खाली खाली दिख रहा था। प्रमोद तिवारी की योग्यता और पार्टी के प्रति विपरीत से विपरीत परिस्थितियों में भी अडिग निष्ठा ने इतिहास के इस पन्ने को भी आखिर स्वर्णाक्षरों मे अंकिंत कराने का प्रमोद के नाम का एक और रिकार्ड दर्ज करा ही गया है। इस नये रिकार्ड से बेल्हा के कांग्रेसी खास कर रामपुर खास का कांग्रेसीगढ़ खुशी से इतरा उठा है। शनिवार को विधायक बेटी व सूबे में कांग्रेस विधान मंडल दल की नेता आराधना मिश्रा मोना के साथ सीडब्लूसी मेम्बर बनने के बाद पहली बार पहुंचे वरिष्ठ कांग्रेस नेता प्रमोद तिवारी को लेकर जिले का जोश दो गुना दिखा। तो रविवार को भी विधायक मोना का कार्यालय प्रमोद की इस बड़ी कामयाबी पर खुशियों से गुलजार दिखा। प्रमोद तिवारी को लेकर पार्टी इसलिए भी गर्व की अनुभूति में दिखा करती है कि उनकी खुद की सेवाओं के अलावा सूबे में कांगे्रस विधान मंडल दल की नेता और उनकी परम्परागत रामपुर खास सीट से लगातार दो बार विधायक चुनी गयी आराधना मिश्रा मोना भी प्रदेश में कांग्रेस को विधान सभा से लेकर सड़क के संघर्ष में पैनी धार देती आ रही है। राजनीतिक सूत्र बताते है कि कई बार प्रदेश की राजनीत का पाहिया भी इस तरह प्रमोद तिवारी के इर्द गिर्द घूमा कि प्रमोद तिवारी यूपी की सत्ता के केन्द्र नजर आये पर गांधी नेहरू परिवार की वफादारी की प्राथमिकता प्रमोद के सियासी रसूख को जरा भी डिगा नही सकी। ऐसे में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने प्रमोद तिवारी के नाम पर प्रतापगढ़ खास कर यूपी की कांग्रेस पर एक बड़ा भरोसा जताया है। पार्टी की सर्वोच्च नीति निर्धारक कमेटी सीडब्लू सी में प्रमोद तिवारी को लिये जाने का सोनिया गांधी का फैसला दस जनपथ में प्रमोद तिवारी की मजबूत पकड़ का भी साफ सियासी सकेंत दे गया है। ऐसे में जबकि इधर कुछ बड़े राजनीतिक सूत्र प्रमोद तिवारी को अगले बीस बाइस के विधान सभा चुनाव में यूपी में सीएम के लिए कांग्रेस का फिट चेहरा बनाये जाने का संकेत दे रहे है, प्रमोद तिवारी का सीडब्लूसी में  जाना इन सकेतों को और बलवती बनाता दिख रहा है। वही रविवार को भी प्रमोद तिवारी के पार्टी में इस बढ़े सियासी कद को लेकर खुशी का माहौल देखा गया। कार्यकर्ताओं ने क्षेत्रीय विधायक आराधना मिश्रा मोना के कैम्प कार्यालय पर सोशल डिस्टेसिंग के बीच एकत्रित होकर वरिष्ठ कांग्रेस नेता के मनोनयन पर कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी व राहुल गांधी तथा पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी के प्रति बैठक के जरियें धन्यवाद प्रस्ताव पारित किया। कार्यकर्ताओं ने कहा कि पहली बार प्रतापगढ़ जिले से प्रमोद तिवारी को पार्टी की राष्ट्रीय कार्यसमिति में स्थान मिलने से जिले का पूरे देश में राजनीतिक मान बढ़ा है। वक्ताओं ने कहा कि सोनिया गांधी ने प्रतापगढ़ जिले के कार्यकर्ताओं पर जिस तरह से प्रमोद तिवारी को वर्किंग कमेटी में महत्वपूर्ण स्थान देकर भरोसा दिलाया है। उसे लेकर कार्यकर्ता लोगों के अधिकार तथा जनसमस्याओं के प्रति सजग जिम्मेदारी का निर्वहन करेंगे।

Post a comment

Blogger