Ads (728x90)

मनपा आयुक्त डॉ. पंकज  अशिया द्वारा भिवंडी में 12 जुलाई तक लॉकडाउन  की तिथि बढाई गई है और  शहर को माइक्रो कंटेनमेंट जोन में रखा है। इस दौरान दूध,फल, किराना एवं मेडिकल के साथ जीवनावश्यक वस्तुओं की आपूर्ति छोड़कर सभी प्रतिष्ठानों को बंद रखने का आदेश दिया गया  है। 
  ज्ञात हो कि शहर में तेजी से  बढ़ रहे कोरोना संक्रमण की श्रृंखला को तोड़ने के लिये मनपा द्वारा 18 जून से तीन जुलाई तक 15 दिनों के लिये लॉकडाउन करके शहर को कंटेनमेंट जोन में घोषित किया गया  था।मनपा द्वारा लॉकडाउन करने के बाद दुकानें आदि तो बंद रहीं,लेकिन नागरिकों द्वारा कोविड 19 के नियमों का उल्लंघन न करने के कारण शहर में बड़ी तेजी से कोरोना संक्रमण बढ़ता गया । जिसके कारण शहर में जहां कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़ी है  वहीं कोरोना संक्रमित मरीजों की मौत की संख्या भी बढ़ती गई। पिछले तीन दिनों से शहर में प्रतिदिन कोरोना संक्रमित 88 नये मरीज पाये जा रहे हैं । गुरूवार को 88 नये मरीज पाये जाने से शहर में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 2111 तक पहुंच गई है। जिसमें 968 मरीज ठीक हो चुके हैं और 114 मरीजों की मौत हुई  है।कोरोना संक्रमण के श्रृंखला को तोड़ने के लिये पुलिस द्वारा वाहनों का सघन जांच भी किया जा रहा है। लेकिन सड़क पर चलने वाले वाहनों की कमी नहीं आ रही है,वहीं  शहर के विभिन्न  क्षेत्रों  की अधिकांश दुकाने खुली रही ।
   मनपा आयुक्त  डॉ पंकज अशिया द्वारा दिये गये  आदेश में 12 जुलाई तक लॉकडाउन करके शहर को माइक्रो कंटेनमेंट जोन घोषित किया गया है। जिसमें दवाखाना,अस्पताल एवं मेडिकल स्टोर को 24 घंटे खोलने की अनुमति दी गई है। वहीं कंटेनमेंट जोन में किराना की दुकानों को सुबह 11 बजे से तीन बजे तक,दूध की दुकानों को सुबह आठ से 10 बजे एवं सायं 5 से 7 बजे तक खोलने की अनुमति दी गई है। टैक्सी एवं ऑटो रिक्शा आदि वाहनों के अनावश्यक रूप से चलने पर प्रतिबंध लगाया गया है। मनपा आयुक्त द्वारा केंटेनमेंट के नियमों का  उल्लंघन  करने वालों के विरुद्ध कार्रवाई करने का आदेश दिया है । 

Post a comment

Blogger