Ads (728x90)

भिवंडी ।एम हुसेन।भिवंडी  में पत्नी को व्हाट्सएप पर ट्रिपल तलाक देकर दुबई फरार होने वाले आरोपी को पुलिस ने सात माह बाद  गिरफ्तार कर लिया  है।मोबाइल द्वारा  तलाक देने के बाद केस दर्ज होने  के बाद  आरोपी  फरार हो गया था जिसकारण  पुलिस ने उसके  विरुद्ध  "लुक आउट" नोटिस जारी किया था।जिसकी खबर लगने के बाद वह हिंदुस्तान लौट रहा था ,परंतु  वह मुंबई  विमान तल पर  उतरने की अपेक्षा  अमृतसर  विमान तल पर जैसे ही उतरा अमृतसर पुलिस ने उसे  हिरासत में लेेे लिया और  भिवंडी पुलिस के हवाले  कर दिया।गिरफ्तार आरोपी ने मायके से पांच लाख रूपया  दहेज  के रूप में मांग की थी जिसे पत्नी लाकर देने में असमर्थ साबित हुई इसलिए पत्नी  को पहले घर से निकाला  और उसके बाद  व्हाट्सएप पर ट्रिपल तलाक दे दिया था।

         पुलिस द्वारा  प्राप्त जानकारी के अनुसार भिवंडी के दीवानशाह दरगाह क्षेत्र  की रहने वाली आरजू शेख  (२३)नामक दिव्यांग महिला का निकाह मुस्लिम रीति रिवाज से पूर्व  18 मई 2014 को नदीम शेख के साथ हुआ था।निकाह के दौरान आरजू के परिजनों ने  दहेज  के रूप में  10,051 रुपए के साथ घर संसार  के  उपयोग में आने वाले  सभी सामान व कीमती  आभूषण  भी दिए थे।नदीम शेख टेक्निकल इंजीनियर है तथा कल्याण के किसी निजी कंपनी में कार्यरत था,इसके बावजूद  विवाह के कुछ दिन के बाद से ही नदीम के परिवार वाले ने न  केवल दहेज के लिए शारीरिक व मानसिक रूप से प्रताड़ित करने लगे बल्कि उसका पति उसके चरित्र पर भी शक करने लगा।फिर भी मायके वालों की यातना को वह मुस्कुराते हुए पांच वर्ष तक झेलती रही।इस दौरान उनका एक चार वर्ष  का खूबसूरत बेटा भी है।बावजूद इसके पिछले कुछ महीनों में नदीम फ्लैट खरीदने के लिए आरजू पर मायके से पांच लाख रुपया लाने का दबाव बनाने लगा।मांग पूरी न करने पर वह आरजू की न  केवल  पिटाई करता था बल्कि एक दिन वह धक्का मार कर उसे घर से निकाल दिया।इसके कुछ दिन बाद उसने व्हाट्सएप पर ट्रिपल तलाक का मैसेज भेजकर उसे तलाक तक दे दिया।जिसके बाद आरजू ने पुलिस  विभाग  को ज्ञापन देकर पति,सास, ससुर  के विरुद्ध  मामला दर्ज कर न्याय की गुहार लगाई  थी।जिसे गंभीरतापूर्वक लेेेते हुए  भोईवाड़ा पुलिस स्टेशन  के  वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक कल्याण राव करपे ने  पुलिस उपायुक्त राजकुमार शिंदे के माार्गदर्शन में मोबाइल पर
ट्रिपल तलाक देने वाले  के विरुद्ध  केस दर्ज कर जांच शुरू की।लेकिन इसी  दरम्यान  नदीम दुबई चला गया,जिसकी जानकारी मिलते ही पुलिस ने उसका पासपोर्ट नंबर  लेकर उसके  विरुद्ध लुक आउट नोटिस जारी किया।जिसकी जानकारी मिलने पर वह हिंदुस्तान आने के लिए गिरफ्तार होने के भय से मुंबई  विमान तल पर न उतर कर अमृतसर  विमान तल पर उतरा था।जहां पर तैनात अमृतसर पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर भिवंडी के  भोईवाड़ा पुलिस स्टेशन  के हवाले कर दिया है ।जिसे अदालत में पेश किया गया मा न्यायालय ने  उसे पुलिस हिरासत में  रखने का आदेश दिया है  ।उक्त मामले में विस्तृत जांच डोईवाडा  पुलिस कर रही है ।

Post a comment

Blogger