Ads (728x90)

-एक संस्था द्वारा  शहर के 316 लोगों को निशुल्क अल्प समय में यह प्रमाणपत्र प्रदान कराया है। 

भिवंडी । एम हुसेन। भिवंडी में ओबीसी समुदाय के लोगों को जाति प्रमाण पत्र प्राप्त करने के लिए कई बाधाओं और कठिनाइयों का सामना करना पड़ता था जिसको  ध्यान में रखते हुए  केयर फाउंडेशन नामक संस्था ने काफी अल्प समय में सैकड़ों लोगों को एक कार्यक्रम आयोजित कर प्रमाण पत्र प्रदान किया है। स्थानीय नागरिकों ने संस्था के इस  सराहनीय कदम की जमकर प्रशंसा की है।

 भिवंडी स्थित रईस हाई स्कूल एंड जूनियर कालेज  के उर्दू बसेरा हॉल में ओबीसी प्रमाणपत्र वितरण  कार्यक्रम आयोजित कर लगभग 316 लोगों को ओ बी सी  प्रमाण पत्र  प्रदान किया गया है ।  विशिष्ट अतिथि जमशेद जी. खान  एनएमसीएमई भारत सरकार के सदस्य, स्थानीय नगरसेवक शाफ़ मोमिन, डॉ मुसदिक पटेल, शफी मुकरी, एडवोकेट प्रबोध ज्यवंत, प्रिंसिपल जियाउर्रहमान   अंसारी।उक्त अवसर पर  जमशेद खान ने सरकारी स्तर पर इस प्रमाणपत्र के महत्व और सरकार द्वारा प्रदान की जाने वाली सुविधाओं और कार्यक्रमों पर प्रकाश डालते हुए कहा कि यह प्रमाण पत्र शिक्षा में बहुत महत्वपूर्ण है और इस श्रेणी  में आने वाले सभी लोगों के पास यह प्रमाण पत्र होना चाहिए।  जो लोग अभी तक इस प्रमाण पत्र को बनाने में सक्षम नहीं हैं, भिवंडी में सक्रिय केयर फाउंडेशन उनकी सहायता  करने के लिए कड़ी मेहनत कर रहा है और  अल्प समय मे 316 लोगों को यह प्रमाण पत्र नि: शुल्क प्रदान कर रहा है जो बहुत ही प्रशंसनीय है।
केयर फाउंडेशन भिवंडी के अध्यक्ष गुलाम हुसैन मोमिन ने ओबीसी जाति प्रमाण पत्र को बनाने मे लगने वाले दस्तावेजों और उसके तरीके पर प्रकाश डालते हुए सरकार की योजना के बारे में विस्तृत जानकारी सहित ओबीसी प्रमाण पत्र प्राप्त करने के लिए और शहर के ओबीसी छात्रों के लिए इस प्रमाण पत्र के महत्व को विस्तार से बताया ।  शिविर लगाने के चार महीने बाद उनके संगठन ने लोगों से प्रमाण पत्र लिया और फिर उस पर काम करना शुरू किया।परिणाम स्वरूप  सफलतापूर्वक 316 ओबीसी प्रमाण पत्र उपलब्ध कराने में सफल हुए  ।
 यह शहर का पहला संगठन है जो ओबीसी और शिक्षा पर पूर्व  कई  वर्षों से निरंतर काम कर रहा है।उक्त कार्यक्रम का संचालन मेडम कुर्रतुल ऐन खान व शाकिरा शेख ने किया।



Post a comment

Blogger