Ads (728x90)

बालिकाओं की सुरक्षा के लिए समाज को आगे आना होगा - तीर्थ राज

पट्टी प्रतापगढ़ प्रदेश सरकार के निर्देश पर चलाये जा रहे जागरूकता कार्यक्रम में आज सरदार वल्लभ भाई पटेल इंटर कॉलेज बहुता में बालिका सुरक्षा जागरूकता “जुलाई अभियान” के तहत चाइल्डलाइन के निदेशक व् यूनीसेफ़ द्वारा नामित ट्रेनर नसीम अंसारी ने बालिकाओं को जेंडर भेद-भाव के तरीकों पर चर्चा करते हुए गुड टच एवं बैड टच के बारे में भी जानकारी दिया। इस अवसर पर विद्यालय के प्राचार्य तीर्थ राज पटेल ने कार्यक्रम की सराहना करते हुए कहा कि बालिकायें हमारी धरोहर है और इनकी सुरक्षा के लिए पूरे समाज को आगे आना होगा.

    कार्यक्रम में तरुण चेतना के अच्छेलाल बिंद ने कहा कि  इन समस्याओं को दूर करने के लिये स्वयं बालिकाओं को शर्म एवं सामाजिक निन्दा का डर त्याग कर आगे आना होगा। नहीं रहेगा तब तक इस तरह की सामाजिक समस्यायें आती रहेंगी। चाइल्डलाइन के सदस्य हकीम अंसारी ने चाइल्ड हेल्पलाइन 1098 सहित वोमेन पावर लाइन 1090 व महिला सहायता लाइन 181   के विषय जानकारी देते हुए कहा कि चाइल्डलाइन दिन रात हमेशा बच्चों के सेवा में निःशुल्क तत्पर है।

    इसी क्रम में यासीनिया इन्टर कालेज गनईडीह में भी बालिका सुरक्षा जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया, जिसमें महिला सशक्तिकरण पर उप राष्ट्र पति पुरस्कार प्राप्त मुन्नी बेगम ने कहा कि बालिकाएं अपना हौसला बनाये रखें क्योंकि हौसलों से ही उड़ान होती है. हौसलों के बल पर एक दिन दुनिया उनके कदमों में होगी. कार्यक्रम में चाइल्डलाइन 1098 के काउंसलर मो. शमीम ने कहा कि बेटियों की लगातार कम होती संख्या चिंताजनक है इसके लिए सभी को एक साथ आना होगा वरना पूरे सृष्ट्री का अस्तित्व ही खतरे में पड़ जायेगा.

   बालिका सुरक्षा जागरूकता अभियान के तहत करीब 1000 बालक-बालिकाओं को जागरूक किया गया, जिसमें चाइल्ड लाइन समन्वयक महेंद्र कुमार, निशा परवीन, राकेश गिरी, शकुंतला देवी, सुरेश कुमार, नन्हें लाल बर्मा, बच्चे लाल, शिव मंगल आदि लोग उपस्थित रहे।



Post a comment

Blogger