Ads (728x90)

 मतगणना में 17 घंटे का समय लगने की संभावना।
 भिवंडी। एम हुसेन । भिवंडी 23 लोकसभा की मतगणना के लिए सारी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। शांतिपूर्ण रूप से मतगणना संपन्न कराने के लिए सभी अधिकारियों एवं कर्मचारियों को प्रशिक्षित कर दिया गया है।   प्रत्येक विधानसभा के मतदान केंद्र के अनुसार लगभग 35 फेरों में मतगणना करने के बाद वीवीपैट मशीन की पर्चियों के मिलान में समय लगने के कारण मतगणना पूरी होने में 17 घंटो से अधिक का समय लग सकता है। उक्त जानकारी भिवंडी लोकसभा के निर्वाचन अधिकारी किशन जावले ने एक पत्रकार परिषद में दिया है। जिसमें सहायक निर्वाचन अधिकारी डॉ. मोहन नलदकर,जयसिंह वलवी,सदानंद जाधव,अजिंक्य पड़वल,राजा ठाकुर, भिवंडी के तहसीलदार शशिकांत गायकवाड़,नायब तहसीलदार संदीप आवारी एवं चुनाव जनसंपर्क अधिकारी मिलिंद पलसुले सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे। 
   निर्वाचन अधिकारी किशन जावले ने मतगणना के लिए की गई सुरक्षा,मतगगना के लिए आने वाले मतगणना प्रतिनिधियों एवं पत्रकारों के लिए की गई व्यवस्था की जानकारी देते हुए बताया कि एलकुंदे स्थित प्रेसीडेंसी स्कूल के पहले महले पर स्ट्रांग रूम बनाया गया है। जहां सुरक्षा की कड़ी वयवस्था की गई है, मतगणना तीसरे महले पर वातानुकूलित कक्ष में की जाएगी। जहां प्रत्येक विधानसभा के लिए स्वतंत्र कक्ष बनाए गए हैं। जिसमें प्रत्येक विधानसभा के लिए अलग-अलग 14 टेबल सहित छह विधानसभाओं के लिए कुल 84 टेबल लगाए गए हैं। मतगणना का काम सुबह साढ़े आठ बजे से शुरू हो जाएगा।
  सबसे पहले पोस्टल मतों की गणना की जाएगी। लोकसभा क्षेत्र में कुल 312 सैनिकों का नाम दर्ज है। मंगलवार की शाम तक कुल 153 इलेक्ट्रॉनिक बैलेट पेपर प्राप्त हुए हैं इसके अलावा अधिकारियों एवं कर्मचारियों के 2515 पोस्टल मतपत्र  प्राप्त हुए हैं। 23 मई की सुबह आठ बजे तक आने वाले सभी मत पत्रों सहित ठाणे डाकघर कार्यालय से बुधवार रात तक आने वाले मत पत्रों को सुबह सात बजे तक मतगणना के लिए शामिल किया जाएगा। 
   विधानसभा के आधार पर भिवंडी पूर्व विधानसभा में 21 फेरों में एवं मुरबाड़ विधानसभा में लगभग 35 फेरों में मतगणना की जाएगी।  जिसमें एक फेरे में कम से कम 30 मिनट का समय लगने वाला है। जिसके तहत मतगणना पूरा होने में 17 घंटे से अधिक का समय लगने की संभावना है। उच्चतम न्यायालय के दिशा निर्देशों के अनुसार प्रत्येक विधानसभा से पांच मतदान केंद्रों की पर्चियों को निकालकर वीवीपैट मशीन की पर्चियों से मिलान किया जाएगा। इस प्रकार से 30 मतदान केंद्रों सहित कल्याण पश्चिम के दो, भिवंडी पश्चिम के एक एवं मुरबाड़ विधानसभा के एक मतदान केंद्र सहित कुल 34 मतदान केंद्र के वीवीपैट मशीन की पर्चियों का मिलान किया जाएगा।
   मतगणना के लिए 1300 मतगणना प्रतिनिधियों का नाम दर्ज किया गया है। मतगणना के लिए 450 अधिकारियों एवं कर्मचारियों सहित 102 मतगणना पर्यवेक्षक,102 सहायक मतगणना पर्यवेक्षक एवं 102 माइक्रो पर्यवेक्षक के अलावा 150 अन्य कर्मचारियों को तैनात किया गया है। मतगणना स्थल पर त्रिस्थलीय सुरक्षा व्यवस्था की गई है जिसमें सीआरपी,एसआरपी सहित पुलिस बल को लगाया गया है। पत्रकारों के लिए अलग कक्ष बनाया गया है जहां इंटरनेट,ईमेल एवं टेलीफोन आदि की सुविधाएं उपलब्ध कराई गई हैं।
Attachments area

Post a comment

Blogger