Ads (728x90)

अब तक 123 करोड़ 75 लाख रुपए का मुद्दे माल जब्त

- अतिरिक्त मुख्य निर्वाचन अधिकारी दिलीप शिंदे

मुंबई, अप्रैल 22:- राज्य में आचार संहिता के चलते पुलिस, आयकर विभाग तथा राज्य उत्पादन शुल्क (आबकारी विभाग) ने कड़ाई से कार्रवाई शुरू की है. इन विभागों ने की हुई कार्रवाई में अब तक नगद राशि, शराब, नशीले पदार्थ, सोने-चांदी सहित 123 करोड़ 75 लाख रुपयों का मुद्देमाल जब्त किया गया है, यह जानकारी अतिरिक्त मुख्य निर्वाचन अधिकारी दिलीप शिंदे ने आज दी.

            उन्होंने कहा कि पूरी सतर्कता के साथ पुलिस, आयकर विभाग तथा आबकारी विभाग कड़ाई से कार्रवाई कर रहा है और 123 करोड़ 75 लाख रुपयों का मुद्देमाल अब तक जब्त हुआ है. इसमें 46 करोड़ 62 लाख रुपए नगद, 23 करोड़ 96 लाख रुपए मूल्य की तीन करोड़ आठ लाख 793 लीटर अवैध शराब, 7 करोड़ 61 लाख रुपये के नशीले पदार्थ तथा 45 करोड़ 47 लाख रुपयों के सोने चांदी का समावेश है.

22 हजार 795 अपराध दर्ज

राज्य में आचार संहिता का उल्लंघन कथा चुनाव प्रक्रिया से संबंधित अन्य प्रकार के 22 हजार 795 अपराध दर्ज किए गए हैं. इनमें पुलिस विभाग तथा उत्पादन शुल्क विभाग की ओर से दर्ज किए गए अपराधों का भी समावेश है. भारतीय दंड संहिता की विभिन्न धाराओं के तहत 416 अपराध, लोकप्रतिनिधी अधिनियम के तहत 76 अपराध, अनधिकृत तरीके से शराब रखने वाले, बिक्री करने वाले तथा वितरण करने वाले और इसकी यातायात करने से संबंधित 14 हजार 583 मामले दर्ज किए गए हैं. गैरकानूनी तरीके से हथियार की निर्मिती, बिक्री, प्रदर्शन और ऐसे हथियार साथ में रखने के मामलों में 747 अपराध दर्ज किए गए हैं. नशीले पदार्थ यानि नारकोटिक्स ड्रग्स के 126 मामले, विस्फोटक पदार्थ कानून के तहत 12 अपराध, खाद्य एवं औषधि अधिनियम के तहत 60, महाराष्ट्र पुलिस अधिनियम के तहत संपत्ति के विदृपीकरण को लेकर 66 मामले और अन्य 28 अपराधों का समावेश है.

 आचार संहिता लागू होने से लेकर अब तक 40 हजार 337 हथियार जमा किए गए हैं. सूचित करने पर भी जमा ना करने वाले लोगों पर कार्रवाई कर 30 हथियार जब किए गए हैं जबकि 135 बिना लाइसेंस के हथियार भी जब किए गए. इसके अलावा 1571 बिना लाइसेंस के हथियार, 566 कारतूस तथा 18 हजार 513 जिलेटिन और अन्य प्रकार के विस्फोटक पदार्थ भी जब्त किए गए हैं.

सी विजील एप पर 3561 शिकायतें

सी विजील एप पर अब तक 3 हजार 561 शिकायतें प्राप्त हुई है. इनमें से दो हजार 34 शिकायतों में तथ्य होने के कारण जिला स्तर पर उचित कार्रवाई की गई है. इस ऐप पर अवैध शराब, मतदाताओं को लुभाने के लिए शराब का वितरण, पैसे का उपयोग, बिना अनुमति पोस्टर लगाना, संपत्ति को विद्रूप करना आदि प्रकार के शिकायतें प्राप्त हुई है.

Post a comment

Blogger