Ads (728x90)

 -
जिले के वारिसनगर प्रखंड के मनियारपुर में सेविका एवं सहायिका के चयन को लेकर आम सभा का आयोजन किया गया। निसमे मेघा सूची में एक नंबर स्थान पर आए  कैंडिडेट को नही बहाल कर 8 नंबर स्थान पर आए कैंडिडेट को  नियुक्त करने को लेकर ग्रामीणों ने की मारपीट, और पुलिस प्रशासन मूकदर्शक बने रहे। बतादे कि पिछले दो बार भी आम सभा का आयोजन किया गया था, पर यही शोरगुल के कारण आम सभा को स्थगित कर दिया गया था। यह आम सभा आज तीसरी बार थी। तीसरी बार भी यही हुआ कि फिर से आम सभा रुक गया। बताते चलें कि ललिता कुमारी पति- रविंद्र कुमार राय ग्राम- मनियारपुर, वार्ड संख्या-5, प्रखंड वारिसनगर, जिला समस्तीपुर की रहने वाली है, जिनका आंगनवाड़ी सेविका पद हेतु मेधा सूची में प्रथम स्थान है। लेकिन महिला पर्वेक्षिका द्वारा बिहार बोर्ड के सर्टिफिकेट को गलत बताते हुए, मेघा सूची में 8 नंबर पर काबिज निक्की कुमारी पति- मनोज कुमार साह, ग्राम -मनियारपुर, वार्ड संख्या-5 प्रखंड वारिसनगर जिला- समस्तीपुर को नामित करने के कारण ग्रामीणों ने जमकर हंगामा किया, तथा महिला पर्यवेक्षिका के साथ कुछ नोकझोंक भी हुई जिसके कारण आम सभा को स्थगित कर दिया गया था। फिर महिला पर्यवेक्षिका के परिजनों ने आकर भी कुछ नोकझोंक किया। वहीँ समाचार लिखे जाने तक एक पक्ष से एफ आई आर की सूचना मिली है। यह सारा माजरा व्यवस्था की पोल खोलती नजर आ रही है। ज्ञात तो हो कि ललिता देवी ने पूर्व में भी जिला लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी, समस्तीपुर, जिला पदाधिकारी, समस्तीपुर, जिला कार्यक्रम पदाधिकारी, समस्तीपुर को भी आवेदन देकर इस मामले की सूचना दी थी, लेकिन सी डी पी ओ, वारिसनगर एवं पर्यवेक्षिका बाल विकास परियोजना पदाधिकारी, वारिसनगर द्वारा कोई सुनवाई नहीं की गई थी। वहीँ आवेदिका के पति वीरेंद्र कुमार राय का कहना है कि उनसे बहाली के लिए का रिश्वत मांगा गया है। नही देने के कारण सब कुछ उल्टा मेरे ऊपर एफआईआर दर्ज कर दिया है, और उसे जेल भी गया .हिन्दुस्तान कीआवाज /राज कुमार राय /समस्तीपुर
Attachments area

Post a comment

Blogger