Ads (728x90)

भिवंडी।एम हुसेन ।भिवंडी तालुुका के विकसित होने वाली माणकोली - वेहले क्षेत्र के रास्ते की दुर्दशा होने के कारण वाहन चालकों सहित प्रवासियों को अनेक प्रकार की परेशानियों का सामना करना पड रहा है। नागरिकों को प्रतिदिन जान हथेली पर रखकर प्रवास करना पडताा है। उक्त समस्याओं से निजात दिलाने के लिए शासन तत्काल प्रभाव से रास्ता दुरुस्त करे इस प्रकार की मांग  वेहले ग्रामपंचायत के सरपंच दुर्जन नामदेव भोईर ने ठाणे जि.प.मुख्य कार्यकारी अधिकारी विवेक भिमनवार को ज्ञापन देकर की है।गौरतलब है कि ढाई किमी.लंबा रास्ता अनेक वर्षों से दुरुस्तीअभावी का कारण बना हुआ है जिसकारण रास्ते पर बडे बडे खड्डे हो गए  हैं जिससे रास्ता नाले का स्वरूप बना हुआ है।इसलिए मोटरसाइकिल ,रिक्शा ,चार पहिया वाहन अथवा पैदल प्रवास करना भी मुश्किल हो गया है।उक्त रास्ते पर वेहले ,भाटाले ,सारंगगांव ,पिंपलनेर ,पिंपलास स ,सुरई आदि गांवों के सैकड़ों नागरिक  प्रतिदिन  प्रवास करते हैं।और उक्त क्षेत्र के बहुसंख्य नागरिक रोजगारके लिए  तथा विद्यार्थियों को शिक्षा ग्रहण करने के लिए भिवंडी ,ठाणे आदि क्षेत्रों में जाना पडता है। परंतु खड्डेमय रास्तों से मजदूर व विद्यार्थियों को आस्थापना के समय पहुंचना मुश्किल हो जाता है जिससे बडा नुकसान हो रहा है। वेहले - माणकोली क्षेत्र में गोदाम ,वेअर हाउस जाल की तरह निर्माण हुआ है.परंतू रास्ते की असुविधाओं के कारण यहां  यातायात में बाधा निर्माण होने से गोदाम बंद होने की शंका निर्माण हो रही है। इसलिए स्थानिक नागरिकों का रोजगार खत्म होने के प्रमाण में बढ़ोतरी हुई है।प्राप्त जानकारी के अनुसार उक्त रास्ता एमएमआरडीए अंतर्गत मंजूर है।परंतु निर्माण कार्य शुरू नहीं होने से सफेदपोश द्वारा  बाधा बाधा डाला गया है क्या ? इस प्रकार का प्रश्न नागरिकों मेंं चर्चा   का विषय बना हुआ है। इसलिए शासन द्वारा यहां के नागरिकों के प्रवास के दौरान प्रतिदिन की समस्याओं को ध्यान में रखते हुए तत्काल प्रभाव से  तुरंत रास्ते का निर्माण कार्य शुरु कराया जाए इस प्रकार की  माांग सरपंच दुर्जन भोईर ने की है।                             

Post a comment

Blogger