Ads (728x90)

भिवंडी। एम हुसेन ।भिवंडी तहसील कार्यालय अंतर्गत आने वाले शिधावाटप कार्यालय से नागरिकों को शिधावाटप पत्रिका समय से प्राप्त नहीं होने के कारण अन्न सुरक्षा योजनांतर्गत समाविष्ट  शिधापत्रिका धारर्कों को नियमानुसार सस्ते भाव से दुकानदारों द्वारा खाद्य पदार्थों का वितरण नहीं किया जा रहा है।इसी प्रकार स्कूल पोषण आहार व अंत्योदय इन योजनाओं के खाद्य पदार्थों की कालाबाजारी हो रही है।उक्त मामले को गंभीरता से लेते हुए भिवंडी शिधावाटप अधिकारी प्रकाश पाटिल  के विरुद्ध ठाणे जिल्हाधिकारी डॉ.महेंद्र कल्याणकर इसकी जांच कराएं ऐसी मांग कॉंग्रेस के सह नियंत्रण समिति जिलाध्यक्ष  इरफान पटेल ने ज्ञापन देकर की है। यदि शिधावाटप कार्यालय में व्याप्त मनमाने कार्यभार की जांच नहीं की गई तो तहसील कार्यालय के सामने काँग्रेस पार्टी द्वारा तीव्र आंदोलन किया जाएगा इस प्रकार की चेतावनी इरफान पटेल ने दी है। भिवंडी तालुुका में मजदूरों की बस्ती दिनोंदिन बढ  रही है, इसलिए गरीब नागरिकों को सरकारी सस्ते दाम में खाद्य पदार्थ उपलब्ध हो इसलिए शिधापत्रिका के लिए आवेदन करते हैं परंतु आर्थिक लेनदेन के बाद भी नागरिकों को शिधापत्रिका नहीं दी जा रही है। इसकी अपेक्षा परप्रांतीय व बांगलादेशी नागरिकों को दलालों द्वारा २ से ५ हजार रुपये लेकर भारतीय नागरिक न होने के बावजूद भी उन्हें शिधापत्रिका दिया जा रहा है। तहसीलदार कार्यालय अंतर्गत आने वाले तालुका शिधावाटप कार्यालय में दलालों की संख्या में बढ़ोतरी होने से गरीब ,जरूरतमंद नागरिकों का बुरा हाल हो रहा है।शिधावाटप दुकानों में दारिद्र्य रेखा के ,अंत्योदय  व स्कूल पोषण आहार तथा शासकीय आदिवासी आश्रम स्कूलों में आपूर्ति होने वाले खाद्य पदार्थों की बडे पैमाने पर। उक्त विविध योजनांतर्गत खाद्य पदार्थ लेने के लिए जाने वाले रेशनकार्ड धारकों खाद्य पदार्थ न देते हुए उन्हे वापस कर दिया जाता है। उसके बाद गेहूं ,चावल ,शक्कर ,रॉकेल जैसी आदि जीवनावश्यक वस्तू  कालाबाजारी कर खुले आम बाजाारों में विक्री की  जाा रही है। शिधा आपूूर्ति अधिकारी प्ररति माह जांच के नााम प रदुकानदारों से बडे पैमाने पर हफ्ता वसूली कर दुकानदारों के विरुद्ध कार्रवाई   करने में टालमटोल किया जा रहा है।इसलिए सर्वसामान्य नागरिकों का हाल दयनीय हो रहा है। तालुका शिधावाटप के राशनिंग कार्यालय में बडे पैमाने पर मनमानी व भ्रष्ट कार्यभार शुरु है। उक्त  कार्यालय के विरुद्ध    अन्न व नागरी पुरवठा मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारी  व हफ्ता वसूली विभाग के द्वारा जांच कराने की मांग  कॉग्रेस के सहनियंत्रण समिति जिलाध्यक्ष  इरफान पटेल ने ठाणे जिलाधिकारी डॉ.महेंद्र कल्याणकर से की है। 

Post a comment

Blogger