Ads (728x90)


कोरोना कोविड--19 के खतरे को देखते हुए महाराष्ट्र राज्य की महाविकास आघाड़ी सरकार ने मुंबई समेत सम्पूर्ण महाराष्ट्र में लॉकडाउन लगाया है । जिसके चलते सड़क पर चलने वाले तमाम वाहनों का चालान काटा जा रहा है । इसके बावजूद भी लोग झूंठा बहाना बनाकर ट्रैफिक पुलिस को गुमराह कर रहे हैं । लेकिन सरकार ने अत्यावश्यक सेवाओं के लिए कुछ जरूरी दिशा निर्देश जारी किया है । जिसमें चिकित्सा और चिकित्सक  रोज सुबह के अखबार दूध भाजी तरकारी की सेवाओं के लिए वाहनों के उपयोग पर कोई प्रतिबंध नहीं है । लेकिन ट्रैफिक पुलिस को इसकी पहचान करना कठिन हो रहा है । वाहन चेकिन के दौरान सड़कों पर पुलिस और आम जनता के बीच तू तू मैं मैं हो रही है ।

गतदिनों इस बड़ी समस्या के समाधान के लिए चेंबूर पुलिस स्टेशन की वरिष्ठ पुलिस निरीक्षिका श्रीमती शालिनी शर्मा ने पुलिस स्टेशन परिसर में तीन रंग के तीन स्टीकर जारी किया है । चिकित्सकों को लाल रंग और व्यापारियों को पिला तथा भाजी सब्जी वालों के लिए हरा रंग का स्टीकर जारी किया है । इस स्टीकर का प्रयोग करने वाले वाहन चालकों को अपना आधार कार्ड और पेनकार्ड के अतिरिक्त अपना परिचय पत्र अपने साथ रखना होगा ।

इस अवसर पर चेंबूर के वरिष्ठ समाज सेवी और पुलिस मित्र मुरली पिल्लई ने श्रीमती शालिनी शर्मा का अभिनंदन करते हुए कहा कि , शालिनी शर्मा ने हमेशा  लोगों के हित के काम को महत्व दिया है । सामान्य लोगों को उचित न्याय देने वाली इस महिला पुलिस अधिकारी ने मुंबई में एक नॉन करेप्ट पुलिस अधिकारीरी की छवि बना रखी है । इनके चेंबूर पुलिस स्टेशन में आने के बाद यहां की कानून व्यवस्था में काफी सुधार हुआ है ।

फोटो --कपिलदेव खरवार

Post a comment

Blogger