Ads (728x90)

जानेमाने वरिष्ठ पत्रकार और समाज को एक उमदा संदेश  देने हेतु  अभिनय के माध्यम से अपने विचार लोगों तक पहुंचाने वाले स्टार रिपोर्ट के प्रधान संपादक हार्दिक हुंडिया ने अपने पत्रकारिता के क्षेत्र में कलम के सच्चे प्रहरी बनकर समाज की सेवा की है । विश्व प्रसिद्ध धारावाहिक तारक महेता का उल्टा चश्मा के निर्माता आशित भाइ और हार्दिक भाइ परम मित्र है। और मित्रता के साथ साथ आशित भाइ हार्दिक जी के अभिनय के प्रसंशक है। वर्तमान की

परिस्थितियों में कोरोना के संक्रमण से देश और दुनिया लड़ रही है । व्यापारी वर्ग, नोकरीपेशा लोंग लॉक डाउन के कारण परेशानी का सामना कर रहे है। यह सारी वर्तमान परिस्थितियों को बखूबी कथावस्तु में ढालकर संसार को एक उमदा संदेश देने का कार्य आशित मोदी करते है । व्यापारीओं को सही दिशा मिले , सच्ची सलाह मिले इस संदेश की अभिव्यक्ति तारकमहेता का उल्टा चश्मा में हार्दिक जी हुंडिया द्रारा की गई। 

    प्रसारित एपीशोड में तेजीभाइ के किरदार में हार्दिक जी हुंडिया ने इस धारावाहिक के पात्र जेठालाल को एक दोस्त की तरह सलाह दी की कोरोना के इस माहोल में व्यापार और पैसों का लेनदेन बहुत ही समझदारी से करना चाहिए नहीं तो रुपये का दश पैसा होने में टाइम नहीं लगता है । और उन्होंने जेठालाल को सलाह दी की शेयर बाजार में अभी भूल से भी पैसा लगाना मत । 

    हार्दिक जी हुंडिया के इस अभिनय में छुपे संदेश को सुरत के हिरा व्यापारी निहार शाह ने अपने जीवन में उतार लिया । उन्होंने ने उसी समय प्रण लिया की वो अब अपनी मेहनत से कमाया हुआ पैसा इस तरह शेयर बाजार में लगाकर  पैसों को डुबाने का काम कभी नहीं करुंगा।

  निहार शाह ने अपने मनोगत व्यक्त करते हुए  कहा की मेहनत करके अमीर बनो । निती से कमाया हुआ धन प्रसिद्ध देता है । शोर्टकट रास्ते से अरबपति बनने के चक्कर में जो है वो भी डुब जाता है और बदनामी मिलती है वो अलग । हार्दिक भाइ ने तारक महेता का उल्टा चश्मा धारावाहिक के माध्यम से और  अपने अभिनय से  समाज को सही राह दिखाई है  । उन्होंने जो शीख दी वो मेरे दिल को छु गई मेंने उसी समय निणर्य लिया की में शेयर बाजार में कभी भी पैसा नहीं लगाउंगा । में मेरी मेहनत के पैसे दुसरों की कंपनी में क्यों लगाकर मेरे पैसों की नुकशानी झेलुं

     इतना तटस्थ और पारदर्शी संदेश अपने उमदा अभिनय के माध्यम से समाज में देने के लिए वरिष्ठ पत्रकार और हम सब को सच्ची राह दिखाने वाले हार्दिक भाइ का बहुत बहुत आभार मानता हुं । और उमदा अभिनय के लिए अभिनंदन देता हुं।

   हार्दिक जी हुंडिया ने अभिनय के साथ साथ अपनी लेखनी और लोगों के साथ संवाद साधकर उनको सही मार्ग दिखाया है । 

कीसी को सही राह दिखाना भी बहुत ही पुण्य का काम होता है । हार्दिक जी हुंडिया ने  इस तरह अनेक लोगों का जीवन सुधारा है ।

Post a comment

Blogger