Ads (728x90)


राष्ट्रपिता महात्मा गांधी केवल एक व्यक्ति नहीं बल्कि एक विचार भी हैं । एक सिरफिरे हत्यारे ने उनकी हत्या तो कर दी , लेकिन उनके विचारों को कभी कोई मार नहीं सकता है । इसलिए उनके जीवन चरित्र पर बोलने के लिए पूरा एक दिन का समय भी कम पड़ेगा ।

       उपरोक्त बातें मुंबई कांग्रेस के अध्यक्ष और पूर्व सांसद एकनाथ गायकवाड़ ने एक सेमिनार को संबोधित करते हुए कहा ।  राजीव गांधी भवन में मुंबई कांग्रेस की तरफ से आयोजित सेमिनार में , महात्मा गांधी की विचार धारा , इस विषय पर कांग्रेस के कई नेता और कार्यकर्ताओं का प्रमुख वक्ता के रूप में मार्गदर्शन करते हुए उन्होंने यह भी कहा कि, हमारा देश गांधी के विचारों को मानने वाला देश है । कांग्रेस ने गांधी के जीवन का मूल मंत्र सत्य और अहिंसा के मार्ग पर चलकर तबके 44 करोड़ और आज के 125 करोड़ की आबादी वाले भारत को आजाद कराया था ।आज की युवा पीढ़ी के लोगों को गांधी के जीवन दर्शन का अनुकरण करना चाहिए । कांग्रेस का एक बहुत बड़ा और पुराना इतिहास है । हमारे कार्यकर्ताओं को यह बात जानने और समझने की है । देश में झूठ का पुलिंदा लेकर कई पार्टी और उसके कई नेता आंधी और तूफान की तरह आये और जब उनकी सच्चाई देश के सामने आई तब सब के सब पानी के बुलबुले की तरह रातों रात ऐसे गायब हुए जैसे गदहे के सिर से सिंग । लेकिन कांग्रेस 135 साल बाद आज भी अपने वजूद के साथ जिंदा है और आगे भी रहेगी । इसलिए कि , इसने आजादी का एक इतिहास और उसका दर्द अपने सीने में दफन कर रखा है । आने वाले दिनों में यही कांग्रेस श्रीमती सोनिया गांधी और राहुल गांधी के मार्गदर्शन में देश की सबसे बड़ी सत्ता पर काबिज होगी , इसमें कोई संदेह करने वाली बात नहीं है । इसके लिए हम सभी को सत्ता पक्ष के लोगों के साथ दो दो हाथ अर्थात संघर्ष करने के लिए तैयार रहना होगा । कांग्रेस और देश के पहले प्रधान मंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरु ने देश और देशवासियों के लिए जिन चीजों का निर्माण अपने खून और पसीने से किया था आज उसको केंद्र की मोदी सरकार गाजर और मूली के भाव में बेंच रही है । हमारे लाडले नेता और देश के होने वाले प्रधान मंत्री राहुल गांधी ने एक सार्वजनिक सभा में कहा है, कांग्रेस जब भी सत्ता में आएगी तब इनकी बेची हुई  देश की  सारी संपत्ति को हम वापस लेने का काम करेगें । श्रीगायकवाड़ ने अपने भाषण के समापन पर दो नारा हमेशा की तरह इस बार भी बोलना नहीं भूले , जय भारत , जय संविधान । मुंबई कांग्रेस के वरिष्ठ उपाध्यक्ष विरेन्द्र बक्षी ने महात्मा गांधी के जीवन चरित्र पर सविस्तार पूर्वक प्रकाश डालते हुए देश की आजादी में दिए उनके बहुमूल्य योगदान के महत्व को अपने कांग्रेस के लोगों के समक्ष रखा  जिसे सभी ने सराहना की। मुंबई प्रवक्ता निज़ामुद्दीन राईन ने सेमिनार के आरंभ में गांधी के सामाजिक समरसता और हिन्दू मुस्लिम एकता के दृष्टिकोण का खुलकर उल्लेख किया । इस अवसर पर मुंबई कांग्रेस उपाध्यक्ष जयप्रकाश सिंह , उपाध्यक्ष मौलाना अब्बास रिजवी , मुंबई कांग्रेस महिला अध्यक्ष श्रीमती डॉ अजंता यादव , मुंबई  कांग्रेस प्रवक्ता आनंद शुक्ला , मुंबई कांग्रेस प्रवक्ता व मीडिया प्रभारी रामकिशोर त्रिवेदी , अरुण सावंत , मुंबई कांग्रेस कोषाध्यक्ष संदीप शुक्ला , बेस्ट समिति के राजेश राजू भाई ठक्कर , तुषार गायकवाड़ , नगरसेवक राजपति ब यादव , मुंबई कांग्रेस गुजराती सेल अध्यक्ष भरत पारेख , मुंबई कांग्रेस डॉक्टर सेल अध्यक्ष डॉ दिनेश हेगडे , मुंबई कांग्रेस उत्तर भारतीय प्रकोष्ठ अध्यक्ष यशवंत सिंह , मुंबई कांग्रेस ओबीसी सेल अध्यक्ष दत्तू गवांकर , मुंबई कांग्रेस सचिव लक्ष्मण कोठारी , महेंद्र मुंगेकर , शिवकुमार लाड , विकाश तांबे , मुंबई सचिव सुरेखा पाटिल मुंबई कांग्रेस महिला सचिव श्रीमती शिल्पा बेलमकार , मुंबई कांग्रेस स्वयं रोजगार सेल अध्यक्ष जयवंत लोखंडे , मुंबई सेवादल अध्यक्ष कमला प्रसाद यादव, सचिव गुलाब विश्वकर्मा , मुंबई कांग्रेस साउथ तमिल  सेल  सचिव सेल्वाराज स्वामी , महासचिव रोजगार सेल डॉ सत्तार खान , पूर्व शिक्षण समिति सदस्य विजय कांबले , राजेश सिंह , दक्षिण मध्य मुंबई जिला महासचिव शंकर खडतरे , दक्षिण मध्य मुंबई जिला अनुसूचित जाति अध्यक्ष नवीनकुमार सिलवंत , दक्षिण मध्य मुंबई जिला सचिव ठाकुर विजय सिंह , ईशान्य मुंबई जिला सेवादल अध्यक्ष रमेश विश्वकर्मा , ब्लाक 155 कोर्डिनेटर लक्ष्मण कालखेर ब्लॉक अध्यक्ष मुरली पिल्लई, श्रीमती लीना सुतार , श्रीमती सविता दासरे के अलावा कांग्रेस के सैकड़ों कार्यकर्ता उपस्थित थे ।  कार्यक्रम का सूत्र संचालन तथा आभार प्रदर्शन मुंबई प्रवक्ता सुरेशचंद्र राजहंस ने किया ।

फोटो - कपिलदेव खरवार

Post a comment

Blogger