Ads (728x90)

कोरोना संक्रमण कोविड 19 की महामारी का जब से देश की आर्थिक राजधानी मुंबई शहर में प्रकोप बढ़ा है तभी से अपने विभाग के गरीब और जरूरतमंद लोगों के लिए दिन रात मेहनत कर के उनको खाने पीने का सामान और जरूरत की चीजों को उनके दरवाजे पर पहुंचने का नेक काम करने वाली समाजसेवी महिला मुंबई के उपनगर चेंबूर में ही रहती है । मेरा तात्पर्य प्रभाग विभाग क्रमांक 152 की कार्य सम्राट नगर सेविका तथा एम पश्चिम प्रभाग विभाग समिति अध्यक्षा श्रीमती आशा सुभाष मराठे से है । जिन्होंने अमर महल चेंबूर पंचशील नगर में बोधिवृक्ष फाउंडेशन की ओर से  एस आर ए के नाम पर हो रहे रहिवासियो के साथ अन्याय के खिलाफ 2018 से जारी धरना प्रदर्शन करने वाली सैकड़ों महिलाओं को माइक पर संबोधित करते हुए कहा कि , मैं डॉ बाबा साहेब आंबेडकर और सुभाष नगर चेंबूर के लोगों की बदौलत ही नगर सेविका बन पाई हूं । उन्होंने फाउंडेशन के लोगों को सुझाव दिया कि , मुझे अपनी शिकायत

लिखित रूप में दें । मैं पूर्व मुख्यमंत्री और विरोधी पक्ष के नेता देवेन्द्र फडणवीस से मिलकर आप लोगों की समस्या का समाधान करने की कोशिश पूरी करूंगी । उन्होंने अपने भाषण के समापन पर वरिष्ठ महिला मालन डोंगरे सहित धरना दे रहीं सैकड़ों महिलाओं को 9 वारी साड़ी सप्रेम भेंट  किया और उनके पांव छूकर आशीर्वाद लिया । कार्यक्रम के आरंभ में आशा मराठे ने तथागत भगवान गौतम बुद्ध के चरणों में और डॉ बाबा साहेब आंबेडकर की प्रतिमा को पुष्पहार अर्पित कर उनकी पावन स्मृति का अभिवादन किया । इस अवसर पर चेंबूर के वरिष्ठ समाजसेवी सुभाष मराठे नीमगांवकर , फाउंडेशन अध्यक्ष राजेंद्र ससाने , वकील एम एल डोले ,

राजेश पाटिल , अविनाश निकम , कोषाध्यक्ष जयेश परमार , उपाध्यक्ष विजय काकडे , अर्जुन मुल्तानी आदि उपस्थित थे । फोटो कपिलदेव खरवार

Post a comment

Blogger