Ads (728x90)

-
कोरोना संक्रमित होने के परिणाम स्वरूप  भिवंडी मनपा के एंबुलेंस चालक अशोक पाटेकर की मौत हो गई है।कोरोना संक्रमित होने के चलते इससे पहले भी अग्निशमन विभाग एवं सफाई विभाग के 2 कर्मचारियों की मौत हो चुकी है । कोरोना संक्रमित होने के कारण अभी तक मनपा के तीन कर्मचारियों की मौत हो चुकी है। कोरोना संक्रमित मनपा  के  20 अधिकारियों एवं कर्मचारियों का विभिन्न अस्पतालों में  उपचार  चल रहा है। कोरोना संक्रमण के कारण हो रही मनपा कर्मचारियों की मौत को लेकर कर्मचारी संगठन कृति समिति ने मनपा प्रशासन द्वारा घोषित किये गये 10 लाख रूपये की आर्थिक मदद करने एवं उनके परिवार को नौकरी देने की प्रक्रिया तत्काल शुरू करने की मांग की है।
      मनपा कर्मचारी संगठन कृति समिति के पदाधिकारियों ने बताया कि सफाई विभाग के सभी कर्मचारियों को कोरोना संक्रमण से बचने के लिये मास्क,दस्ताना एवं फेसशील्ड न दिये जाने के कारण वे लॉकडाउन शुरू होने के समय से ही अपनी जान खतरे में डालकर काम कर रहे हैं । मनपा प्रशासन को उनके स्वास्थ्य के प्रति भी ध्यान दिया जाना चाहिये। कर्मचारी संगठन कृति समिति ने बताया कि मनपा द्वारा शुरू में एक बार मास्क,दस्ताना एवं सेनेटाइज आदि दिया गया था, उसके बाद नहीं दिया गया।मनपा कर्मचारी संगठन के महेंद्र कुंभारे ने बताया कि मनपा द्वारा बार-बार मांग करने के बावजूद सफाई कर्मचारियों को कोरोना संक्रमण से बचने के लिये पीपीई किट आदि नहीं दिया जा रहा है ।कोरोना संक्रमित होने के कारण एंबुलेंस चालक अशोक पाटेकर की जहां मौत हो चुकी है, वहीं इससे पहले अग्निशमन विभाग के भास्कर तांडेल एवं सफाई विभाग के कर्मचारी प्रथमेश गायकवाड़ की मौत हो चुकी है।कर्मचारी कृति समिति ने मनपा आयुक्त से मांग किया है कि मृतक कर्मचारी के परिवार को नौकरी देने एवं उनकी आर्थिक मदद के लिये 10 लाख रुपया देने की प्रक्रिया तत्काल शुरू कर दिया जाये ।मनपा सफाई विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि सभी कर्मचारियों को समय समय पर मास्क एवं हैंडग्लब्ज आदि दिया जा रहा है। सुरक्षा पर ध्यान देने के बावजूद किसी न किसी कारण से कर्मचारी संक्रमित हो जा रहे हैं ।  

Post a comment

Blogger