Ads (728x90)

 भिवंडी महानगर पालिका के विविध विभाग में  कार्यरत 20 कर्मचारी कोरोना संक्रमित पाये  गये  हैं जिसमें  2 कर्मचाऱियों की  मृत्यु हो गई है ।इस प्रकार की  घटना घटित होने के बावजूद मनपा का आस्थापन विभाग संभालने वाली मुख्यालय उपायुक्त नूतन खाडे  ने  आयुक्त के  आदेशानुसार कामा  पर गैरहाजिर रहने वालों के  एक वर्ष  के लिये बढाये  गये वेेेतन  पर रोक लगाने  घटना प्रकाश में आई है । जिसकारण  कर्मचाऱियों में  असंतोष  व्याप्त है इसलिये  कर्मचारी संघटना आंदोलन करने की तैयारी कर रही है इसी दरम्यान इस प्रकार की  कार्रवाई  होनेे में 5  कोरोना संक्रमित कर्मचाऱियों का भी समावेश  । 
        भिवंडी मनपा  उपायुक्त ,नगर रचना विभाग व बांधकाम विभाग के अधिकारी ,टाटा आमंत्रा  स्थित  कार्यरत  रहने वाले  कर्मचारी ,अग्निशमन दल के  जवान  इसी के साथ ही  आस्थापन विभाग ,वाहन विभागा में लगभग 20 कर्मचाऱी कोरोना संक्रमित पाये गये हैं तथा स्वच्छता विभाग व नगर रचना विभाग के 2 कर्मचाऱियों की कोरोना संक्रमित होने के कारण उनकी मृत्यु हो गई है  ।इसके बावजूद    मनपा प्रशासन  मनपा मुख्यालय व संबंधित विभाग में प्रतिबंधित न करते हुये  वहां किसी प्रकार की  औषध  का छिड़काव  न होने के कारण  कर्मचारी वर्ग में भय का वातावरण  व्याप्त है ।परंतु मनपा उपायुक्त नूतन खाडे ने मनपा शिस्त भंग प्राधिकरण अधिकारी  आयुक्त के  आदेशानुसार
काम पर गैरहाजिर रहने वाले  कर्मचाऱियों की एक वर्ष के बढाये गये वेतन  को रोकने की सजा दी है  जिसकारण  कर्मचारी मजदूरों  द्वारा  भारी आक्रोश  व्यक्त किया  जा रहा है ।गौरतलब है कि  कोरोना के विरोध लडाई लड़ने में अपने प्राणों की पर्वाह न करते हुये कर्मचारी, मजदूर  दिनो रात  परिश्रम कर रहे हैं परिणाम स्वरुप इनकी पीठ थपथपाने व शाबाशी देने  की उपेक्षा उक्त प्रकार की  कार्रवाई करना  अमानवीय है ।इस प्रकार की  शिकायत मजदूर   संघटना के पदाधिकारी द्वारा की गई है  तथा  कर्मचारी संघटना द्वारा इसके विरोधात में  बहुत जल्द  राज्य के  नगर विकास विभाग के प्रधान सचिव के समक्ष शिकायत प्रस्तुत  की जाएगी।

Post a comment

Blogger