Ads (728x90)

  -
भिवंडी तालुका के  40 ग्रामपंचायत सीमांतर्गत गोदाम पट्टे में नियमों का पालन नहीं किया जा रहा है जिसकारण  कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या में दिनोंदिन वृद्धि हो रही है।प्राप्त जानकारी के अनुसार आज तक गोदाम पट्टे में 49  लोगों की  कोरोना के कारण  मृत्यु  हो गई है।जिसे गंभीरतापूर्वक संज्ञान लेते हुए गोदाम पट्टे के ग्रामपंचयत ने कोरोना वायरस के बढते  संक्रमण को रोकने के अत्यावश्यक सेवा के गोदाम को छोडकर बाकी  सभी गोदाम  का सर्वेक्षण करके उस स्थान पर मजदूरों के आरोग्य संबंधित सुविधाओं की चिंता नहीं करने वाले गोदाम व्यवसाय बंद करने के संकेत ठाणे जिलाधिकारी राजेश नार्वेकर ने दिये हैं, वह शुक्रवार को  प्रांत कार्यालय में होने वाली  कोरोना के संदर्भ में जानकारी लेने हेतु  बैठक  के बाद  पत्रकारों से बोल रहे थे। भिवंडी  ग्रामीण भागों में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या बढती जा रही है जिसके लिये  उपाय योजना के संदर्भ में भिवंडी प्रांत कार्यालय के सभागृह में ठाणे जिलाधिकारी डॉ राजेश नार्वेकर   की अध्यक्षता में  बैठक का आयोजन किया गया था। इस बैठक में जिला परिषद मुख्य कार्यकारी अधिकारी हीरामन सोनावने ,प्रांताधिकारी डॉ मोहन नलदकर ,पुलिस उप अधीक्षक दिलीप गोडबोले,जिला आरोग्य अधिकारी डॉ मनीष रेंघे,तहसीलदार शशीकांत गायकवाड़, गट विकास अधिकारी डाॅ प्रदीप घोरपडे सहित तालुका के महसूल, पंचायत समिति, पुलिस अधिकारी उपस्थित थे। भिवंडी तालुका  में 121 ग्रामपंचात है जिसके 40 ग्रामपंचात सीमांतर्गत 25 हजार गोदाम हैं जिसमें लगभग 5 लाख मजदूर काम करते हैं जिसकारण यहां काम करने के लिए आने जाने वाले मजदूरों सहित ट्रांसपोर्ट व्यवसायियों की संख्या में भी वृद्धि हुई है जिसकारण ग्रामीण भाग में  कोरोना वायरस का संक्रमण बडी तेजी से बढ रहा और वहां मरीजों को आरोग्य सेवा नहीं मिल रहा है जो चिंता का विषय बना हुआ है इसलिए उक्त प्रकार का निर्णय लिया गया है । इसलिए ग्रामपंचात, पंचायत समिति, महसूल विभाग के अधिकारी के संयुक्त पथक गोदाम का सर्वेक्षण करेंग  इनके माध्यम से गोदाम चालक मजदूरों के आरोग्य संबंधित यदि कोई चिंता नहीं हैं तो उनके विरुद्ध गोदाम बंद करने की कार्रवाई की जायेगी इस प्रकार से स्पष्ट किया गया है ।

Post a comment

Blogger