Ads (728x90)

 -
बिजली आपूर्ति करने वाली सरकारी कंपनी व निजी कंपनियों द्वारा बिजली उपभोक्ताओं को भेजे गए बिजली बिल में हुई वृद्धि के संदर्भ बार बार सरकार व बिजली आपूर्ति करने वाली कंपनियों के प्रबंधकों को ज्ञापन प्रस्तुत करके बिजली बिल में  की गई  वृद्धि को नियमित रूप से कम करने की मांग की जाती रही  है  परंतु आज तक कोई सुनवाई नहीं हुई है। जिसकारण बिजली उपभोक्ताओं में सरकार के विरोध में भारी आक्रोश पाया जा रहा  है ।उल्लेखनीय  है कि पूर्व 5  महीने से पूरे देश में कोरोना वायरस की महामारी फैली हुई है और सरकार द्वारा लाॅकडाउन लागू किया गया है जिसकारण सभी छोटे बड़े  उद्योग धंधे पूर्ण रूप से बंद हो गए हैं । परिणामस्वरूप गरीबों,किसानों, मजदूरों सहित  आम जनता की आर्थिक स्थिति दयनीय होती जा रही है जो चिंता का विषय बनी हुई है । जिसकारण  सरकार द्वारा बिजली बिल में की गई वृद्धि के  परिणाम स्वरुप  उपभोक्ताओं के सामने एक बडी समस्या बनती जा रही है। इसलिए  सरकार का ध्यान केंद्रित करने हेतु दिनांक 20.7.20 को  एआईएमआईएम के भिवंडी जिलाध्यक्ष शेख ख़ालिद गुड्डू के नेतृत्व में स्व आनंद दिघे चौक जकात नाका स्थित से सायंकाल 3 बजे के समय बाइक रैली निकाली  जाने वाली थी इस   रैली में 5 हजार लोग शामिल होकर शीध्र रूप से  मुंबई के बांद्रा  स्थित मुख्यमंत्री के बंगले मातोश्री का घेराव करने वाले थे ।परंतु सायंकाल 3 बजे के समय जैसे ही शेख ख़ालिद गुड्डू के नेतृत्व में उनके समर्थक भारी संख्या में एकत्रित हुए और नारेबाजी करने  लगे उसी समय पहले से तैयनात शहर पुलिस  स्टेशन की टीम सहित आदि पुलिस कर्मियों ने खालिद गुड्डू को समर्थकों सहित रोक लिया और दर्जनों लोगों को हिरासत में ले लिया इन्हें पुलिस वाहन में बैठाकर शहर पुलिस स्टेशन ले गये ।पुलिस द्वारा प्राप्त जानकारी के अनुसार ख़ालिद गुड्डू, एडवोकेट अमोल कांबले, हमीद शेख,रियाज अंसारी, अनवर अंसारी आदि को भादवि 188 सहित मनाई आदेश 136 का उल्लंघन करना तथा राष्ट्रीय आपत्ति अधिनियम कानून अंतर्गत साथरोग प्रतिबंध कानून के अनुसार मामला दर्ज कर लिया  है  ।

Post a comment

Blogger