Ads (728x90)

भिवंडी।एम हुसेन । वैश्विक महामारी के कारण देश भर में पूर्व 70 दिनों से लाॅक डाउन हैं। लाॅक डाउन को समाप्त करने के लिए  कई चरणों में देश में दुकान खोलने की इजाजत देते हुए  केन्द्र व राज्य सरकार ने आदेश  जारी किया हैं। जिसके कारण भिवंडी मनपा प्रशासन ने सम - विसम तारीख के अनुसार P-1, P-2 पाट प्रमाणे मुख्य रास्ते के  दुकान,कारोबार शुरू करने के लिए आदेश जारी किया है। जो 5 जून से लागू है, दुकानदार अपनी दुकान सुबह 9 बजे से शाम 5 तक खोल सकते हैं। इसके लिए  मनपा ने कुछ शर्तों को भी लागू किया हैं।परंतु  आज दूसरे दिन भी व्यापारियों द्वारा खुल कर नियम कानून की धज्जियां उठाते हुए दोनों तरफ की दुकानें खोलकर व्यवसाय करते हुए देखा गया। जिसके कारण बाजार की दुकानों में जमकर भीड़ इकठ्ठा हो रही है।गौरतलब हो कि पदमा नगर भाजी मार्केट  से जलापूर्ति कार्यालय  तक दोनों तरफ की दुकानें खुली दिखी,वहीं पर धामणकर नाका से धांगे  अस्पताल  तक दोनों  तरफ के  दुकानदार अपनी अपनी दुकानें खोलकर व्यवसाय करते हुए देखे गये। इसके साथ ही मंड़ई के कुछ ठिकानों पर दुकानें दोनों तरफ खुली हुई   थी । कल्याण नाका से पाईप लाईन तक व जकात नाका से KGN चौक तक दोनों तरफ की दुकानें खुली हुई थी। कुछ दुकानदारों ने मनपा प्रशासन द्वारा जारी आदेश का पालन करते हुए मास्क व सेनेटाईजर का प्रयोग किया।परंतु  अधिकांश दुकानदार बिना मास्क लगाऐ ही अपने ग्राहकों को सामान बेचते दिखाई दिये। भिवंडी शहर में कोरोना पाॅजिटिव मरीजों के मृत्यु की संख्या 13  तक पहुंच गई हैं ।इसी प्रकार  234 लोग इस वायरस से संक्रमित हुए हैं।इसके साथ ही 95 लोग उपचार के दरम्यान ठीक हो चुके हैं ।बाकी 126 लोगों का उपचार चल रहा हैं।टाटा आमंत्रा  में 377 लोगो को कोरंटाइन किया गया है। वहीं पर भिवंडी मनपा प्रशासन ने 22 क्षेत्रों को     कंटेेेनमेंट जोन  घोषित किया है। इसके साथ ही ग्रामीण  क्षेत्र  में 140 पाॅजिटिव मरीज पाऐ गये हैं,जिसमें 3 लोगों की मृत्यु हो चुकी हैं‌। केवल 62 लोग उपचार के दरम्यान ठीक हो चुके हैं।75 लोगों का विभिन्न अस्पतालों में उपचार चल रहा हैं‌,352 लोगों को टाटा स्थित आमंत्रा में कोरंटाइन किया गया हैं। इसके साथ ही 70 ठिकानों को कंटेेनमेंंट जोन घोषित किया हैं। शहर तथा ग्रामीण  क्षेत्र में कुुल मिलाकर 374 लोग इस वैश्विक महामारी के शिकार हुए हैं।अभी तक 16 लोगो की इस महामारी के कारण मृत्यु हो चुकी हैं। 729 लोगो को टाटा स्थित आमंत्रा में कोरंटाइन किया गया हैं। 92 ठिकानों को  कंटेनमेंट जोन घोषित किया गया है । कंटेनमेट जोन में मनपा प्रशासन का कोई पहरा नहीं होने के कारण लोग अपने अपने घरों व मोहल्ले से निकल कर बाजारों में खरीददारी करते देखे  जा रहे हैं। जिसके कारण शहर में अब तेजी के साथ कोरोना अपना पांव पसार रहा हैं ? प्रतिदिन लगभग 20 से 25 लोग इस वायरस के संक्रमण से शिकार हो रहे हैं जो  चिंता का विषय है , मनपा  प्रशासन ने यदि नियम को  सख्ती से लागू नहीं किया तो देखते देखते पूरे शहर को संक्रमण का शिकार होने से  संकार नहीं किया जा सकता है।

Post a comment

Blogger