Ads (728x90)

 भिवंडी ।एम हुसेन। भिवंडी में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या में  बड़ी तेजी से बढ़ोतरी हो रही है, जिसके कारण कोरोना संक्रमित मरीजों के मौत का ग्राफ भी बढ़ता जा रहा है, जो शहर के लिये चिंता की बात है।बता दें कि भिवंडी शहर में कोरोना संक्रमित मरीजों की दिनों-दिन बढ़ती संख्या के पीछे यहां के निजी डॉक्टरों एवं जागरूक नागरिकों द्वारा शहर के नागरिकों द्वारा कोविड 19 के नियमों का पालन न करना बताया जा रहा है।बाज़ार में दुकानों के सामने खूब भीड़ हो रही है, ग्राहकों द्वारा कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने के लिये सोशल डिस्टेंसिंग का तो बिल्कुल पालन नहीं किया जा रहा है। दुकानदारों द्वारा न तो मनपा के सम-विषम तारीख का पालन किया जा रहा है और न ही कोविड 19 के नियमों का ।
   भिवंडी में शनिवार को कोरोना संक्रमित 16 मरीज पाये जाने से  संक्रमित  मरीजों की संख्या 390 तक पहुंच गई है।जिसमें शहर में कोरोना संक्रमित 7 मरीज पाये जाने से कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 241 हो गई है। शहर में 96 मरीज जहां ठीक हो चुके हैं वहीं 17 मरीजों की यानी कोरोना संक्रमित सात प्रतिशत मरीजों की मौत हो गई है। पिछले दो दिनों में कोरोना संक्रमित 6 मरीजों की मौत हुई है । इस समय शहर में 128 मरीजों का  उपचार  चल रहा है। उनके संपर्क में आने वाले 377 लोगों को क्वारंटीन किया गया है।मनपा  क्षेत्र  में 22  क्षेत्रों  को कंटेनमेंट जोन में रखा गया है।इसी  प्रकार  ग्रामीण  क्षेत्र  में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 149 हो गई है। जिसमें 62 मरीज ठीक हो गये हैं और  3 मरीजों की मौत हो चुकी है।कोरोना संक्रमित 84 मरीजों का विभिन्न अस्पतालों में उपचार चल रहा है। कोरोना संक्रमित मरीजों के संपर्क में आने वाले ग्रामीण  क्षेत्र के  485 लोगों को क्वारंटीन किया गया है।जिसमें 357 लोगों को होमक्वारंटीन किया गया है और 128 लोगों को सरकारी क्वारंटीन में रखा गया है। ग्रामीण के 73 क्षेत्रों को कंटेनमेंट जोन में रखा गया है। 
      शहर में बढ़ रहे कोरोना संक्रमित मरीजों को लेकर भिवंडी मेडिकल प्रेक्टिशनर्स एसोसिएशन के पूर्व अध्यक्ष डॉ. कमल जैन  बताते हैं कि बाज़ार में लोगों की भीड़ बढ़ती जा रही है।कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़ने के बावजूद शहर के नागरिकों द्वारा इसे बहुत हल्के में लिया जा रहा है जो अच्छे संकेत नहीं है।सामाजिक अंतर का पालन नहीं किया जा रहा है, शहर के नागरिकों द्वारा कोविड 19 के नियमों का पालन न करने के कारण कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़ रही है। दुकानों के खुलने के कारण लोगों की  भारी भीड़ हो रही है।उन्होंने बताया कि कोरोना संक्रमित मरीजों को सबसे अधिक ऑक्सीजन की आवश्यकता होती है। कोरोना संक्रमित मरीजों को ऑक्सीजन न मिलने के कारण उनकी मौत भी हो रही है। शहर में बढ़ रही कोरोना संक्रमित मरीजों की मौत चिंता का विषय है। बाज़ार में जाने वाले शहर के नागरिकों को सामाजिक अंतर  का पालन, घर से निलकने के पहले मास्क लगाना आदि अति आवश्यक है जिसे सभी लोग संज्ञान में लें ।



Post a comment

Blogger