Ads (728x90)

भेलसर(अयोध्या)रूदौली क्षेत्र में लगभग दो दशक पहले तहसील प्रशासन द्वारा बसाए गये बाढ़ पीड़ितों को विधुत विभाग उजाड़ने मे तुला है जबकि मामला न्यायालय मे विचाराधीन है उसके बावजूद भी विधुत विभाग द्वारा जेसीबी मशीन से कई लोगो का घर ढहा दिया गया।अब परिवार खुले आसमान के नीचे रहने को मजबूर है।
मामला रुदौली तहसील क्षेत्र के फेलसण्डा गाव का है।जहा पर लगभग दो दशक पहले तत्कालीन एसडीएम भरतजी पाण्डेय  द्वारा बाढ़ पीड़ितों को लाकर बसाया गया था।तभी से रामकुमार,गीता देवी पत्नी ध्रुव चन्द्र सहित अन्य लोग घर बना कर अपना जीवन यापन कर रहे थे।लेकिन विधुत विभाग ने जबरन इन लोगो की जमीन अधिग्रहण के करने नियत से क्षेत्र में लॉक डाउन लागू होने के बाद भी मंगलवार की रात जेसीबी मशीन से ढहा दिया।जिससे दोनो परिवार बेघर हो गये और खुले आसमान के नीचे रहने को मजबूर है।रामकुमार व गीता देवी ने बताया कि हम लोगों का मामला न्यायालय में बिचाराधीन है और मामले की शिकायत भी एसडीएम से लेकर राज्यपाल व मुख्यमंत्री से की गयी है।बावजूद हम लोगों के घर को गिरा दिया गया।जिसकी हम लोगों ने डायल 112 को सूचना दी। मौके पर पहुची पुलिस मूक दर्शक बनी रही।एसडीएम रूदौली बिपिन कुमार सिंह ने बताया कि विधुत विभाग को खाली भूमि दी गई थी वे लोग अवैध रूप से कब्जा करके निर्माण कर रखे थे इस लिए विधुत विभाग द्वारा उनके कब्जे को हटवा दिया गया।



Post a comment

Blogger