Ads (728x90)

बिजली ठेकेदार टोरंट पावर कंपनी द्वारा 3 महीने का एक साथ भेजे गए  बिजली बिल का भुगतान करने के लिए उपभोक्ताओं को किस्तों की सुविधा  प्रदान की  गई है।जिसके तहत बिजली बिल का भुगतान  एक साथ न करके किस्तों में इसका भुगतान करने की सुविधा प्रदान की गई  है।इस संदर्भ में टोरंट पावर का कहना है कि किसी के बहकावे में न आकर सुविधा के अनुसार किस्तों में बिल का भुगतान करें और बिजली खंडित होने से सुरक्षित रहें।
          गौरतलब है कि  कोरोना के वैश्विक महामारी के कारण लागू किए गए लॉकडाउन के कारण भिवंडी के बिजली ठेकेदार टोरंट पावर द्वारा 3 महीने का बिजली बिल एक साथ भेजा गया  है।जिसके बाद बिल बचाने का रास्ता खोजने वाले खाज मंडली ने  बिल को लेकर चिल्लाना शुरू कर दिया है।उक्त लोगों का आरोप है कि टोरंट पावर मनमाने तरीके से अधिक बिल भेजकर बिजली उपभोक्ताओं को जान बूझकर हैरान कर रही है।जबकि टोरंट पावर कंपनी का कहना है कि
वर्तमान में जो भी बिल भेजे जा रहे हैं वे नियामक प्राधिकरण के दिशानिर्देशों के अनुसार हैं। टोरंट का कहना है कि लॉकडाउन के दौरान औसत बिलिंग हुई थी।लेकिन बाद में अनलॉक होने की प्रक्रिया शुरू होने के बाद में मीटर रीडिंग प्राप्त करने के बाद औसत बिलिंग को रिव्हर्स किया गया और रीडिंग आधारित बिल अब उपभोक्ताओं को भेजा जा रहा है और एमईआरसी के दिशा-निर्देश का पालन पूरे महाराष्ट्र में किया जा रहा है ।इस प्रकार का खुलासा  टोरंट पावर ने करते हुए कहा है कि
लॉकडाउन अवधि के बाद मीटर रीडिंग के कारण, इकाइयां जमा हो गई हैं।जिसके कारण यूनिट्स के संचय से उच्च बिलिंग हुई है ।इस संदर्भ में  महाराष्ट्र सरकार के ऊर्जा मंत्री नितिन राउत ने हाल ही में एक साक्षात्कार में स्पष्ट  रूप से कहा है कि बिजली बिल दिशानिर्देशों के अनुसार हैं। उपभोक्ताओं को यह ध्यान देने की आवश्यकता है कि ये दो से तीन महीने के मीटर रीडिंग के आधार पर बिल हैं, यानी ये संचित बिल हैं और गर्मी के साथ-साथ लॉकडाउन के कारण, उपभोक्ताओं द्वारा बिजली का उपयोग अधिक किया गया है।साथ ही टैरिफ में भी वृद्धि हुई है।जिसके कारण बिल में वृद्धि हुई है।उन्होंने यह स्पष्ट किया है कि उपभोक्ताओं को बिजली बिल का भुगतान करना होगा, एक साथ नहीं बल्कि किस्तों में बिल का भुगतान करें इसके अलावा बिल माफ होने की कोई संभावना नहीं है  ।उक्त संदर्भ में टोरंट पावर कंपनी का कहना है कि 3 माह का बिल एक साथ आने से निश्चित ही उपभोक्ताओं को अधिक  बिजली बिल लग रहा होगा।कंपनी का कहना है कि जो भी उपभोक्ता एक साथ बिजली बिल के भुगतान करने  में असमर्थ हैं उन्हें  किस्तों में बिल का भुगतान करने  की सुविधा दी गई  है।बिजली बिल माफ होने की आशंका को सिरे से खारिज करते हुए टोरंट पावर ने जनता से अपील की है कि उन्हें देरी से बिल भरने पर विलंबित भुगतान शुल्क के साथ-साथ प्रचलित नियमों के अनुसार ब्याज भी लगाया जा सकेगा। इसलिए यह वास्तव में उपभोक्ताओं के पक्ष में है कि वे अपने बिजली बिल का समय पर भुगतान करें और  उक्त  शुल्कों से सुरक्षित रहें ।

Post a comment

Blogger