Ads (728x90)

-
कोरोना  वायरस के बढते संक्रमण को रोकने के लिए  लाॅकडाउन  लागू किया गया है जिसकारण  शासनादेश के अनुसार पूर्व 23 मार्च  से  सैलून व्यवसाय बंद  है ।जिसकारण  नाभिक समाज के सामने भुखमरी का संकट बना हुआ है इसलिए  शासन द्वारा  सैलून व्यवसायियों को तत्काल प्रभाव से पचास हजार रूपया आर्थिक सहायता देकर सैलून व्यवसाय शुरु करने के लिए अनुमति दी जाये इस  प्रकार की मांग नाभिक समाज वेल्फेअर एसोसिएशन भिवंडी  द्वारा  एक ज्ञापन  भिवंडी उपविभागीय अधिकारी के समक्ष  प्ररस्तु  कर की गई है।
  उक्त  विषय पर  नाभिक समाज वेल्फेअर एसोसिएशन के  ठाणे जिलाध्यक्ष प्रफुल्ल  खंडागले,  बाराबलूतेदार संघ के  ठाणे जिलाध्यक्ष नागेश जाधव के माध्यम से राज्य के मुख्यमंत्री, ठाणे जिलाधिकारी , प्रांताधिकारी. तहसिलदार आदि को ज्ञापन प्ररस्तु कर सैलून व्यवसायियों को तत्काल प्रभाव से पचास हजार रूपया की आर्थिक सहायता दिया जाये  ।इसी प्रकार  अन्य  व्यवसायियों को  जिस  प्रकार  उद्योग  शुरू करने के लिए  श्रेणी के अनुसार  छूट दी गई है उसी प्रकार  सैलून व्यवसायियों को भी सैलून  शुरू करने के लिए अनुमति दी जाये ,इस प्रकार की मांग नाभिक समाज वेल्फेअर एसोसिएशन द्वारा  शासन से की गई है।


Post a comment

Blogger