Ads (728x90)

-
लॉकडाउन के दौरान अत्यावश्यक सेवाओं को छोड़कर शहर के सभी बाज़ारों की दुकानें जहां बंद रहती थीं, वहीं तीनबत्ती स्थित मछली मार्केट रातभर धूम से चलती थी।जहां भिवंडी ही नहीं ठाणे,कल्याण,मुंब्रा,वसई,विरार,महापोली एवं मुंबई से लोग मछली  खरीदने वाले आते थे। जिसके कारण मछली मार्केट में भारी भीड़ हो जाती थी, शहर में बढ़ रहे कोरोना संक्रमण को ध्यान में रखते हुये स्थानीय नगरसेवक फराज बहाउद्दीन बाबा ने मछली मार्केट को रात में बंद करा दिया है  ।
  गौरतलब है कि सरकार द्वारा लॉकडाउन किये जाने के बाद मछली एवं मटन विक्री की दुकानों पर भी प्रतिबंध लगाया गया था ।लेकिन स्थानीय पुलिस एवं मनपा अधिकारियों की मिलीभगत से भिवंडी के तीनबत्ती स्थित मछली मार्केट पूरी रात धूम से चल रही थी । भिवंडी मछली का होलसेल मार्केट होने के कारण ठाणे जिला के साथ मुंबई के उपनगरों से भी खरीदने के लिये लोग आते थे। जिसके कारण मछली मार्केट में रातभर भीड़ बनी रहती थी। बताया जाता है कि रात 11 बजे से सुबह पांच बजे तक मछली मार्केट में खरीददारों का आना जाना लगा रहता था। बाहर के लोगों के आने के कारण पिछले लगभग 15 दिनों में भिवंडी में बड़ी तेजी से कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही थी । कोरोना संक्रमित मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुये मनपा ने 18 जून से शहर में 15 दिन का लॉकडाउन लागू  कर दिया है। मनपा द्वारा लॉकडाउन करने के बाद शहर की अन्य दुकानें जहां बंद कर दी गई हैं, वहीं तीनबत्ती स्थित मछली मार्केट बंद नहीं हुई और रात भर चलती रही, जिसकी जानकारी मिलने पर स्थानीय नगरसेवक फराज बहाउद्दीन बाबा ने वहां जाकर मार्केट को बंद करा दिया है। उन्होंने लॉकडाउन के दौरान दूकान खोलने पर उनके विरुद्ध मामला दर्ज कराने की चेतावनी दी है ।
 उक्त संदर्भ में स्थानीय नगरसेवक  फ़राज़ बहाउद्दीन बाबा ने प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि कोरोना संक्रमण का चैन तोड़ने के लिये मनपा द्वारा लॉकडाउन के दौरान मेडिकल,दूध एवं किराना को छोड़कर अन्य सभी दुकानों को बंद करने का आदेश दिया गया है। इस आदेश पालन न करते हुये यदि कोई दूकान खोलता है तो मनपा प्रशासन द्वारा उसके विरुद्ध तुरंत कार्रवाई की जानी चाहिये।

Post a comment

Blogger