Ads (728x90)

भिवंडी।एम हुसेन।सरकर  द्वारा  लॉकडाउन लागू किया गया है जिसकारण लाॅकडाउन के दौरान यातायात के सभी साधन बंद होने के कारण मजदूर पैदल अपने गांव जाने के लिये मजबूर हो गया था। जिसके कारण हजारों की संख्या में रोजाना मजदूर पैदल ही जा रहे थे। मजदूरों की समस्याओं को देखते हुये भिवंडी रोड स्टेशन से गोरखपुर के लिये पहली बार विशेष ट्रेन मजदूरों को लेकर जा रही है। शनिवार रात जाने वाली भिवंडी-गोरखपुर विशेष ट्रेन के लिये 1200 लोगों का फॉर्म जमा किया गया है,जिनकी स्क्रीनिंग करके जांच की जा रही है , लेकिन भिवंडी रोड स्टेशन के पास स्थित हरिधारा मार्केट में हजारों की संख्या में मजदूर दोपहर से पहुंच गये थे।   
  इस संदर्भ में  भिवंडी पुलिस उपायुक्त राजकुमार शिंदे ने शहर के नागरिकों से आह्वान करते हुये कहा कि भिवंडी रोड स्टेशन से गोरखपुर के लिये एक विशेष ट्रेन शनिवार की रात में रवाना होगी।उन्होंने बताया कि भिवंडी से गोरखपुर के लिये यह विशेष ट्रेन है,जिसमें  केवल गोरखपुर के यात्रियों के लिये ही टिकट दिया जायेगा। भिवंडी से छूटने के बाद यह ट्रेन सीधे गोरखपुर में ही रुकेगी। जहां जिलाधिकारी द्वारा जांच करने के बाद यात्रियों को छोड़ा जायेगा। गोरखपुर के अलावा यदि कोई यात्री दूसरे जिले का जायेगा तो उसे वहां से पुनः  वापस कर दिया जायेगा, और यहां वापस आने पर उसके विरुद्ध पुलिस स्टेशन में अपराध दर्ज किया जायेगा। जिसके कारण इस ट्रेन में  केवल 1200 सीट ही उपलब्ध है ।
  पुलिस उपायुक्त राजकुमार शिंदे ने शहर के सभी नगरसेवकों एवं गोरखपुर जाने वाले इच्छुक लोगों से अनुरोध करते हुये कहा था कि पुलिस द्वारा दिये गये फॉर्म को भरकर उसे संबंधित पुलिस स्टेशन में जमा कर दें, उन्होंने यह भी कहा था कि पुलिस स्टेशन में सभी मजदूरों को जाने की जरूरत नहीं है । 20-25 मजदूरों के साथ एक ग्रुप लीडर सबका फॉर्म और आधार नंबर लेकर पुलिस स्टेशन में जमा कर दे , पुलिस स्टेशन में उनके आधार कार्ड की जांच की जायेगी, उसके आधार कार्ड पर गोरखपुर का पता होना आवश्यक है। यदि आधारकार्ड पर गोरखपुर का पता नहीं होगा तो वह मजदूर विशेष ट्रेन से नहीं जा पायेगा।
 इस कार्य के लिए बनाया गया था 6 केंद्र,
मजदूरों का फॉर्म जमा करने के लिये उपविभागीय अधिकारी डॉ. मोहन नलदकर द्वारा शहर के विभिन्न क्षेत्रों में 6 केंद्र बनाये गये थे। जिसमें नारपोली पुलिस स्टेशन अंतर्गत आने वाले लोगों के लिये अंजुरफाटा स्थित हरिधारा मार्केट,शांतिनगर पुलिस स्टेशन के लिये भादवड़ स्थित संपदानाइक हाल, भिवंडी शहर पुलिस स्टेशन के लिये मानसरोवर चौकी,भोईवाड़ा पुलिस स्टेशन के लिये परशुराम टावरे स्टेडियम एवं कोनगांव पुलिस स्टेशन के लिये गोवानाका स्थित पंचक्रोशी मैदान निर्धारित किया गया था । 
जांच के बाद ही जा पायेंगे मजदूर,
स्टेशन के पास मजदूरों की स्क्रीनिंग की जा रही थी,स्क्रीनिंग में स्वस्थ पाये जाने के बाद ही मजदूरों को जाने दिया जायेगा, स्क्रीनिंग के दौरान उनका आधार कार्ड आदि की भी जांच की जा रही थी, ट्रेन में बैठने के पहले सभी मजदूरों को सेनेटाइज किया जायेगा। स्टेशन के पास लाइन में उन्हें ही बैठने दिया जा रहा था जिनके पास गोरखपुर के पता का आधार कार्ड था। स्टेशन के पास लाइन में लगे लोगों द्वारा प्रति व्यक्ति की दर से 800 रूपये टिकट के लिये लिया जा रहा था। जिनके पास पैसा नहीं था, उन्हें वापस कर दिया जा रहा था ।
अधिकांश मजदूरों के पास नहीं है आधार कार्ड ,
आधार कार्ड आवश्यक किये जाने के बाद  भारी संख्या में मजदूरों एवं आम लोगों ने भिवंडी के पते से आधार कार्ड बनवा लिया है। जिनके पास भिवंडी का आधार कार्ड है वे लोग गोरखपुर या अन्य जिलों का आधार कार्ड कैसे दिखाएंगे। हरिधारा मार्केट के पास जमा सैकड़ों की संख्या में ऐसे मजदूर थे, जिनके पास या तो आधार कार्ड था ही नहीं और जिनके पास था उसमें भिवंडी का पता था । 

 उक्त संदर्भ में भिवंडी पूर्व विधानसभा के विधायक रईस कासम शेख ने आम जनता से अपील की है कि  जिस तरह से गोरखपुर के लिये विशेष ट्रेन जा रही है,इसी तरह से उत्तर प्रदेश के हर जिले के लिये विशेष ट्रेन जायेगी। जिसके लिये गोरखपुर के अलावा दूसरे जिलों के लोग स्टेशन पर भीड़ न करें। 
3 Attachments

Post a comment

Blogger