Ads (728x90)

 भिवंडी।एम हुसेन।  भिवंडी कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या दिनों-दिन  बड़ी तेजी  के साथ  बढ़ती जा रही है जो चिंता का विषय बना हुआ है । लेकिन वहीं  राहत की बात यह है कि कोरोना संक्रमित मरीज ठीक होकर अपने घर भी जा रहे हैं।एसआरपीएफ के एक जवान के कोरोना संक्रमित  पाये जाने से मनपा  क्षेत्र  में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 43 और ग्रामीण  क्षेत्र  में कोरोना संक्रमित 2 नये मरीज पाये जाने से ग्रामीण क्षेत्र  के कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 53 तक पहुंच गई है ।मनपा और ग्रामीण  क्षेत्र  में कोरोना संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 96 हो गई है। जिसमें कोरोना संक्रमित 33 मरीज ठीक हो गये हैं और 2 मरीजों की मौत हो गई है । 
   एसआरपीएफ के जवान को कोरोना  संक्रमित  पाये जाने के बाद उन्हें उपचार के लिये आईजीएम उपजिला अस्पताल में भर्ती करा  दिया गया है ।एसआरपीएफ जवान के संपर्क में आने वाले 27 कर्मचारियों को क्वारंटीन केंद्र में भेज दिया गया है । मनपा  क्षेत्र  के कोरोना संक्रमित 43 मरीजों में 19 मरीज ठीक हो गये हैं और एक मरीज की मौत हो गई है। इस समय 23 मरीजों का  उपचार  चल रहा है। मनपा  क्षेत्र  में कोरोना संक्रमित  मरीजों के संपर्क में आने वाले कुल 802 लोगों को क्वारंटीन किया गया है। जिसमें 468 लोगों को सरकारी क्वारंटीन में और 334 लोगों को होम क्वारंटीन में भेजा गया है। मनपा के 20  क्षेत्रों  में कंटेनमेंट घोषित किया गया है। 
  खोनी गांव के 47 वर्षीय एक व्यक्ति एवं कोनगांव के 31 वर्षीय एक व्यक्ति के कोरोना  संक्रमित  पाये जाने के बाद ग्रामीण  क्षेत्र  में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 53 हो गई है।जिसमें कोरोना संक्रमित 14 मरीज ठीक होकर घर अपने घर पहुंच  गये हैं और टेंभीवली की 62 वर्षीय एक महिला की मौत हो गई है । कोरोना संक्रमित वह महिला हृदयरोग से पीड़ित थी । ग्रामीण  क्षेत्र  में इस समय 38 कोरोना संक्रमित मरीजों का  उपचार  चल रहा है। ग्रामीण  क्षेत्र  में कोरोना संक्रमित मरीजों के संपर्क में आने वाले 269 लोगों को  क्वारंटीन किया गया है,जिसमें 170 लोगों को सरकारी क्वारंटीन में एवं 99 लोगों को होम क्वारंटीन में रखा गया है । ग्रामीण  क्षेत्र  के 28  क्षेत्रों  को कंटेनमेंट जोन घोषित किया गया है ।

Post a comment

Blogger