Ads (728x90)

भिवंडी।एम हुसेन। जैसा कि हम सभी जानते हैं, देश और दुनिया COVID-19 महामारी के कारण बेहद मुश्किल की घड़ी से गुजर रहे हैं। इसका अनुमान लगाना मुश्किल है कि स्थिति में सुधार होने में और जीवन को सामान्य स्थिति में लौटने में कितना समय लगेगा। अब लगभग 7 सप्ताह का लॉकडाउन हो गया है, हम सभी इस स्थिति से लड़ने के लिए इसका कड़ाई से पालन कर रहे हैं। प्रौद्योगिकी और इलेक्ट्रॉनिक गैजेट्स जैसे टेलीविजन और मोबाइल फोन के लिए धन्यवाद, जो हमें व्यस्त रखके हमारा मनोरंजन भी कर रहे हैं।
लेकिन एक चीज जो इस सब की रीढ़ है, वह है बिजली की आपूर्ति। यह हमें प्रदान की गई नियमित बिजली आपूर्ति के कारण ही है कि हम इस चिलचिलाती गर्मी में घर पर आराम से रह  रहे हैं । हमारे इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों का उपयोग कर खुद को व्यस्त रख कर अपना मनोरंजन भी कर रहें हैं। लेकिन यह संभव है क्योंकि हमारे बीच कुछ लोग, जो बिजली वितरण कंपनियों के साथ काम करते हैं, इस परीक्षण समय के दौरान भी अपने कर्तव्यों पर काम कर रहे हैं ताकि हमको बिजली की आपूर्ति नियमित रूप से जारी रहें। वे यह सुनिश्चित कर रहे हैं कि नेटवर्क में होने वाले दोषों को तुरंत ठीक किया जाए ताकि हम अपने घरों के अंदर रहें और सुरक्षित रहें। क्षेत्र की परवाह किए बिना, चाहे वह एक कन्टेनमेंट क्षेत्र हो या हॉटस्पॉट, वे आपूर्ति को बहाल करने के लिए भागते हैं ताकि हमारे कार्यक्रम में न्यूनतम व्यवधान हो। एक पुलिस, या डॉक्टर की तरह, ये भी COVID योद्धा हैं जो राष्ट्र को इस महामारी से लड़ने में मदद कर रहे हैं। इन कठिन समय में , हमें इन लोगों और उनकी परिस्थिति पर भी विचार करना चाहिए। उनके पास भी देखभाल करने के लिए परिवार हैं और वे भी घर पर रह सकते हैं, हालांकि अपने कर्तव्य को प्राथमिकता दे रहे हैं। जबकि हम में से कुछ लोग, तकनीकी दोष के कारण कोई भी बिजली व्यवधान होने पर बहुत शिकायतें करतें हैं । हमें इनके प्रयासों को नहीं भूलना चाहिए। हमें यह समझने की जरूरत है कि किसी भी अन्य मशीनरी की तरह, बिजली नेटवर्क को भी रखरखाव की आवश्यकता होती है। और इस रखरखाव के लिए, आपूर्ति को कुछ समय के लिए बंद करना अनिवार्य होता है। तकनीकी खराबी के मामले में भी, आपूर्ति बाधित हो जाती है लेकिन ये योद्धा सुनिश्चित करते हैं कि खराबी जल्द से जल्द ठीक हो जाए… जरुरी है की हम इन मुद्दों पर विचार करें और इन लोगों को धन्यवाद दें जिनके बिना, इस मुश्किल समय से गुज़रना हमारे लिए लगभग असंभव ही था। इन "बिजली योद्धाओं" को मेरा सलाम।

Post a comment

Blogger