Ads (728x90)

 भिवंडी।एम हुसेन। लॉकडाउन के दौरान बारिश से पहले पहले जल्द से जल्द सड़कों की मरम्मत एवं नालों की सफाई आदि काम करने  की अनुमति मनपा प्रशासन द्वारा   दी गई थी । जिसके तहत भिवंडी के विभिन्न क्षेत्रों में सड़कों का निर्माण कार्य  किया जा रहा था।लेकिन ठेकेदार द्वारा धामनकर नाका- कॉलेज रोड पर घटिया दर्जे का सड़क निर्माण  कार्य किया जा रहा था ।सड़क डामरीकरण में डामर के बजाय काला तेल एवं रंग डालकर बनाया जा रहा था। जिसका एक जागरूक नागरिक द्वारा वीडिओ वायरल  करने के बाद मनपा प्रशासन ने जेसीबी लगाकर ठेकेदार द्वारा बनाई गई सड़क को उखाड़ दिया है ।

  बतादें कि लॉकडाउन के कारण सभी उद्योग धंधे बंद थे, लेकिन तीसरे लॉकडाउन के दौरान सरकार द्वारा नालों की सफाई एवं सड़क निर्माण सहित आवश्यक कामों की अनुमति दे दिया गया  था। जिसके तहत धामनकर नाका-कॉलेज रोड के अधूरे पड़े काम को ठेकेदार कंपनी ईगल कंस्ट्रक्शन द्वारा किया जा रहा था। लेकिन ठेकेदार द्वारा निम्न दर्जे का सड़क निर्माण कार्य  किया जा रहा था ।जिसपर    सोमवार की शाम को  शहर के जागरूक नागरिक एड. भागवत वाघमारे की नजर पड़ने पर उन्होंने उसका वीडियो वायरल कर दिया। वीडियो वायरल होने के बाद मंगलवार को मनपा के शहर अभियंता एल.पी.गायकवाड़,भाजपा के जिलाध्यक्ष एवं स्थानीय  नगरसेवक संतोष शेट्टी ने निम्न दर्जे की सड़क बनाये जाने के बारे में ठेकेदार से पूछताछ किया। शहर अभियंता एल.पी. गायकवाड़ के आदेश पर निम्न दर्जे की बनाई गई सड़क को जेसीबी द्वारा उखाड़ दिया गया है।

  उक्त संदर्भ में  संतोष  एम शेट्टी भिवंडी  जिलाध्यक्ष भाजपा एवं स्थानीय नगरसेवक ने अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि      प्रशासन की आंखो में धूल झोंककर निम्न दर्जे की सड़क बनाने वाले ठेकेदार कंपनी के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई की जानी चाहिये, और इस प्रकार की सड़क बनाने वाली कंपनी को ब्लैकलिस्ट में डाल दिया जाना चाहिये ।



Post a comment

Blogger