Ads (728x90)

 भिवंडी।एम हुसेन। भिवंडी की सेवाभावी संस्था श्री भैरव सेवा समिति द्वारा मुंबई-नासिक राष्ट्रीय महामार्ग से पैदल जानेे वाले  मजदूरों के लिये पांच श्रमिक पदयात्री सेवा केंद्र शुरू किया गया  है। जहां पैदल जाने वाले सभी मजदूरों एवं उनके परिवार वालों के लिये भोजन  का पैकेट, नाश्ता, बिस्किट,पानी,दवा,मास्क,कैप एवं चप्पल आदि का भी प्रबंध किया गया है ।मजदूरों के पानी पीने के लिये पालघर नियॉन फाउंडेशन द्वारा 1000 लीटर के टैंकर की व्यवस्था  की गई है  । उल्लेखनीय है  कि भिवंडी सहित आसपास के शहरों से उत्तर प्रदेश, बिहार  सहित  अन्य राज्यों में जाने वाले प्रवासी मजदूरों को जाने का कोई साधन न मिलने के कारण हजारों की संख्या में रोजाना मजदूर पैदल ही अपने गांव जा रहे हैं ।उक्त  पैदल जाने वाले मजदूरों के साथ में उनका परिवार भी है,जिसमें छोटे-छोटे बच्चे भी शामिल  हैं। लेकिन जाने के लिये कोई साधन न मिलने के कारण वे पैदल जाने के लिये मजबूर हो गये हैं ।श्री भैरव सेवा समिति के सहसचिव अनिल जैन ने बताया कि पैदल जाने वाले मजदूरों की  सहायता  करने के लिये समिति द्वारा मुंबई-नासिक राष्ट्रीय महामार्ग पर भिवंडी-कल्याण बाईपास स्थित रांजनोली नाका , शांग्रीला रिसॉर्ट वड़पे,वाशिंद, आठगांव एवं भातसा में पांच श्रमिक पदयात्री सेवा केंद्र खोला गया है।इस श्रमिक पदयात्री सेवा केंद्र से पैदल जाने वाले मजदूरों एवं उनके परिवार वालों को भोजन  का पैकेट, नाश्ता, बिस्किट,पानी,दवा,मास्क,कैप एवं पैर में पहनने के लिये चप्पल दिया जा रहा है ।उन्होंने बताया उक्त प्रकार की  व्यवस्था पांचो केंद्रों पर की गई है ।


Post a comment

Blogger