Ads (728x90)

 भिवंडी।एम हुसेन। भिवंडी मनपा क्षेत्र  में फैलते कोरोना संक्रमण को रोकने के लिये मनपा आयुक्त डॉ. प्रवीण आष्टीकर ने भिवंडी के निजी विशेषज्ञ डॉक्टरों की एक कृति दल का गठन किया है। जिसमें शहर के विभिन्न अस्पतालों के  9 विशेषज्ञ डॉक्टरों को शामिल किया गया है इस संदर्भ में मनपा द्वारा उन विशेषज्ञ डॉक्टरों को सूचित कर दिया गया है । कृति दल में शामिल विशेषज्ञ डॉक्टरों की एक बैठक भी मनपा आयुक्त द्वारा बुलाई गई थी ।
  बतादें कि भिवंडी मनपा क्षेत्र में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या में  दिनों दिन वृद्धि हो रही है ।हालांकि कोरोना संक्रमण को रोकने के लिये मनपा द्वारा फीवर क्लीनिक, कोविड केयर सेंटर,कोविड हेल्थ सेंटर एवं डेडिकेटेड कोविड हॉस्पिटल बनाया गया है। लेकिन बढ़ रहे कोरोना संक्रमण पर रोक लगाने के लिये राज्य सार्वजनिक स्वास्थ्य विभाग के निर्देश पर शहर के विशेषज्ञ डॉक्टरों के एक कृति दल का गठन किया गया है। ताकि उनका मार्गदर्शन लेकर कोरोना के संक्रमण पर रोक लगाया जा सके ।मनपा आयुक्त की अध्यक्षता में शहर के विशेषज्ञ डॉक्टरों का यह कृति दल कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को रोकने, कोरोना संक्रमण से हो रही मृत्यु दर को कम करने एवं गंभीर बीमारी वाले मरीजों को समय-समय पर उपचार करने में  सहायता  करेंगे ।
  मनपा आयुक्त डॉ. प्रवीण आष्टीकर की अध्यक्षता में होने  वाली विशेषज्ञ डॉक्टरों के कृति दल की बैठक  में डॉ. गजानना स्वामी,डॉ. विवेक जोशी,डॉ. मनोहर अरवारी,डॉ. उज्वला बर्दापुरकर,डॉ. संजीवकुमार रत्नापुरकर,डॉ. खालिद अंसारी, डॉ. जितेंद्र पाटील, डॉ. विक्रम जैन एवं डॉ. तुषार टावरे को शामिल किया गया है। सूत्रों द्वारा प्राप्त जानकारी के अनुसार मनपा आयुक्त द्वारा कृति दल से आवश्यकतानुसार दिन में दो बार वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से आपस में बैठक करके कोरोना हॉस्पिटल में भर्ती मरीजों के बारे में चर्चा किया जाएगा। गंभीर बीमारी से ग्रसित कोरोना संक्रमित मरीज के आवश्यक उपचार करने के संबंध में कोविड हेल्थ सेंटर अथवा डेडिकेटेड कोविड हॉस्पिटल के डॉक्टरों का मार्गदर्शन करना है ।आवश्यकतानुसार वीडियो कॉल के माध्यम से कोविड हेल्थसेंटर एवं डेडिकेटेड कोविड हॉस्पिटल के मरीजों की जांच करके उसके उपचार के लिये सलाह दिया जाना चाहिये। मरीजों के जीवन की रक्षा के लिये विशेषज्ञ डॉक्टरों की सेवायें आवश्यक हैं।जिसके लिये प्रोटोकॉल का ध्यान रखते हुये कोरोना वायरस के सुरक्षा सामग्रियों का उपयोग करते हुए डॉक्टरों से मिलकर उनका उचित मार्गदर्शन किया जाना चाहिये।मरीजों के लिये आवश्यक दवायें देने एवं कोरोना संक्रमित पॉजिटिव मरीज के उपचार के लिये सर्व सुविधा वाले शहर के अस्पतालों अथवा अनयत्र उपलब्ध ऑपरेशन थियेटर या अतिदक्षता विभाग में मरीज के उपचार के लिये रिपोर्ट देने का अनुरोध किया है। मनपा आयुक्त ने कृति दल में शामिल किये गये विशेषज्ञ डॉक्टरों से कहा है कि इसका पालन न किये जाने पर उनके विरुद्ध संसर्ग रोग अधिनियम के तहत कार्रवाई की जाएगी।इसकी जानकारी  मनपा द्वारा सभी विशेषज्ञ डॉक्टरों के साथ आईजीएम उपजिला अस्पताल, इंडियन मेडिकल एसोसिएशन को सूचित कर दिया गया है।           

Post a comment

Blogger