Ads (728x90)

भिवंडी।एम हुसेन।लॉकडाउन के दौरान वधू कविता जाधव  एवं  वर सचिन थोरात इन दोनों का मंगल परिणय  कोरोना  के कारण  सादे पद्धति से तालुका के दिघाशी स्थित वधू के 
घर में ही सामाजिक अंतर का पालन करते हुए  बौद्ध धम्म संस्कार के अनुसार बौद्धाचार्य
सुजय जाधव  के  हस्तों  संपन्न हुआ। 

 देश भर में कर्फ्यू  कानून धारा १४४ लागु किया गया है जिसकारण  5 से अधिक  लोग  एक साथ  एकत्रित  नहीं हो सकते हैं। इसलिए  कविता जाधव व  सचिन थोरात ने उक्त परिस्थितियों को गंभीरता पूर्वक ध्यान में लिया ।और समाज मे एक  सामाजिक संदेश जाये इसलिए अपना विवाह  सादे पद्धति से  सरकारी नियमों का पालन किया है ।तथा जाधव व थोरात परिवार की सराहना की जा रही है।  गौरतलब है कि एक तरफ लाखों रुपये खर्च कर के  पैसों की बर्बादी होती है परंतु इस पद्धति पैसों की भी बचत होती है ।और समाज में  सामाजिक संदेश  जाये इसलिए  नवदांपति  द्वारा लिये गये  निर्णय की प्रशंसा की जा रही है। उक्त अवसर पर  नितीन थोरात, आत्माराम जाधव, अनंता भोईर, मधुकर थुले आदि  उपस्थित  ।

Post a comment

Blogger