Ads (728x90)

भिवंडी।एम हुसेन। लॉकडाउन के कारण भिवंडी के आनंद दिघे चौक के सामने की व्यवसायिक इमारत की गैलरी में एक व्यक्ति पैर सड़ जाने के कारण पिछले 21 दिनों से जिंदगी और मौत से संघर्ष कर रहा है।उसके पैर में कीड़े पड़ने के कारण वह चल नहीं सकता है, जिसके कारण इमारत की गैलरी में पड़ा हुआ  है ।स्थानीय लोगों द्वारा उसे नाश्ता, पानी दे दिया जाता है, चलने में परेशानी होने के कारण पानी पीने वाले बोतल में वह पेशाब करके रखता जाता है, जिसके कारण वहां ,हर समय बदबू भरा रहता है ।
  बतादें कि पास के ही शांतिनगर रोड स्थित कचेरी पाड़ा का  निवासी  दीपक सावंत (54) का बांया पैर सड़ गया है, उपचार न होने के कारण उसके पैर में कीड़े पड़ गये हैं। दीपक सावंत ने बताया कि उसका उपचार कलवा सरकारी अस्पताल में होता है, लेकिन लॉकडाउन होने के कारण सभी वाहन बंद हैं, जिसके कारण वह कलवा नहीं जा पा रहा है । दीपक का स्वंय का कोई परिवार नहीं है, लेकिन उसके भाई का परिवार है, बाएं पैर में कीड़े पड़ने के कारण वह चल नहीं पा रहा है जिसके कारण असहाय अवस्था में पड़ा जीवन और मौत के बीच संघर्ष कर रहा है ।
  जीवन और मौत के बीच संघर्ष कर रहे दीपक सावंत को कलवा स्थित सरकारी अस्पताल में भेजवाकर उपचार कराने की व्यवस्था करने के लिये पुलिस सहित मनपा प्रशासन कुछ करने के लिये तैयार नहीं है। शांतिनगर पुलिस को फोन करने पर ठाणे अमलदार ने आईजीएम उपजिला अस्पताल से संपर्क करने के लिये  सुझाव दे दिया, आईजीएम उपजिला अस्पताल के चिकित्साधीक्षक डॉ. अनिल थोरात से संपर्क करने पर उन्होंने 108 पर संपर्क करने के लिये बता दिया, 108 पर संपर्क करने पर 108 नंबर लगा ही नहीं। आईजीएम उपजिला अस्पताल के चिकित्साधीक्षक डॉ. अनिल थोरात ने कहा कि सरकारी अस्पताल में सूचना देने वाले का नाम और मोबाइल नंबर देना पड़ेगा। मैं 108 नंबर पर तुम्हारा नाम और मोबाइल नंबर दे देता हूं, इसके बाद भी कोई नहीं  आया। 
    अंतत भिवंडी  पुलिस उपायुक्त राजकुमार शिंदे से संपर्क किया गया ,पुलिस उपायुक्त राजकुमार शिंदे ने कहा कि पुलिस क्या-क्या करे ? उन्होंने मनपा आयुक्त से संपर्क करने के लिये कहते हुये  कहा कि मनपा के पास इस समय पांच एंबुलेंस है। मनपा आयुक्त से कहिये वह तुरंत कलवा अस्पताल भेजने की व्यवस्था करेंगे। मनपा आयुक्त डॉ. प्रवीण आष्टीकर एवं मनपा के मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. जयवंत धुले से संपर्क करने का प्रयास किया गया। लेकिन उन्होंने भी फोन नहीं उठाया ।मनपा के जनसंपर्क अधिकारी मिलिंद पलसुले से इस संदर्भ में  बात किया गया तो उन्होंने बताया कि मनपा आयुक्त साहेब की पालकमंत्री से वीडियो कांफ्रेंसिंग से मीटिंग चल रही है। जनसंपर्क अधिकारी मिलिंद पलसुले से दीपक सावंत के बारे में बताये जाने पर उन्होंने कहा कि मनपा द्वारा उसे अस्पताल भेजने की व्यवस्था किया जाता है , लेकिन समाचार लिखे जाने तक मनपा द्वारा कोई व्यवस्था नहीं  की गई है ।           

Post a comment

Blogger