Ads (728x90)

शाहजहांपुर/ कोरोना वायरस जैसी महामारी का दंश झेल रहे देश में फिर एक बार लॉक डाउन का उल्लंघन करने का मौका जनता के हाथ लग गया आपको बता दें इससे पूर्व जब देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा अपने अपने घरों में बालकनी से कोरोना महामारी के बीच अपनी जान का परवाह किए बगैर लोगों की सेवा में लगे डॉ और सफाई नायकों कर्मचारियों का अभिवादन करने के लिए ताली  थाली और घंटा बजाने का आदेश हुआ था तो  अधिकतर जगह लोग लॉक डाउन का उल्लंघन करके रोडो पर निकल आए थे और जुलूस के साथ लोगों को ताली और थाली बजाते देखा गया था जिसमें कई जिले के डीएम और एसपी भी शामिल हुए जिन पर बाद में सरकार द्वारा कार्रवाई भी  की गई लेकिन एक बार फिर जनता को लॉक डाउन का उल्लंघन करने का मौका मिल गया और देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने फिर एक बार देश को एकता  का एहसास कराने के लिए 9:00 बजे से 9 मिनट तक दीपक जलाने का आदेश जारी किया और जनता दीपावली के तरह गलियों में झुंड बनाकर दीपक के साथ पटाखे और आतिशबाजी छुड़ाते देखी गई जो कोराना से जंग भी कही जा सकती है और कोरोना को बढ़ावा भी जो  लॉक डाउन को   कामयाब होने में एक अड़चन है जो जनता की नासमझी के कारण हो रही है   वहीं इस लॉक डाउन से गरीब मजदूर वर्ग भुखमरी के कगार पर पहुंच रहा है  जो लॉग डाउन समाप्त होने का बेसब्री से इंतजार कर रहा है  अगर यही हाल रहा  और हर 15 दिन बाद जनता  लॉक डाउन का हुड़दंग के साथ उल्लंघन  करती रही तो लॉक डाउन का उद्देश्य खत्म हो जाएगा और मजदूर वर्ग भूखों मरने  लगेगा यह  देश के  प्रधानमंत्री के आदेश लॉक डाउन और दीपक जलाने के तौर-तरीकों  का खुला उल्लंघन है
 ब्यूरो रिपोर्ट: बीडी कनौजिया शाहजहांपुर

Post a comment

Blogger