Ads (728x90)

लालकुआ रिपोर्टर मुकेशकुमार

लॉकडाउन का पालन कराने व रमजान को शांतिपूर्वक मनाने के उद्देश्य से कोतवाली परिसर में एसडीएम व पुलिस क्षेत्राधिकारी की मौजूदगी में अमन चैन कमेटी की बैठक हुई।

    काफी देर मंथन के बाद निर्णय लिया गया कि रमजान की नमाज मस्जिदों की जगह अपने-अपने घरों में पढ़ी जाएगी। इसके अलावा किसी भी प्रकार का ध्वनियंत्र व लाउडस्पीकर का प्रयोग नहीं किया जाएगा। इस दौरान मुस्लिम समुदाय ने कई समस्याओं को अधिकारियों के सामने रखा। जिस पर अधिकारियों ने जल्द ही समाधान का भरोसा दिया।

बताते चलें कि आज एसडीएम विवेक राय व सीओ दिनेश ढोडियाल की मौजूदगी में रमजान को लेकर अमन चैन कमेटी की बैठक कोतवाली परिसर में हुई।

     इसमें एसडीएम विवेक राय ने बताया कि देश-प्रदेश में कोरोना को लेकर लॉकडाउन प्रभावी है। इसी को ध्यान में रखते हुए लॉकडाउन का पालन करना सबका दायित्व है। लॉकडाउन में किसी भी जगह भीड़भाड़ की अनुमति नहीं दी जा सकती है। इस दौरान मुस्लिम समुदाय के नेताओं व मौलानाओं से काफी मंथन के बाद मस्जिदों की बजाय घरों में रमजान की नमाज पढ़ने का फैसला लिया। मुस्लिम समुदाय द्वारा रोजा इफ्तारी का समय, रोजा के दौरान खाद्य पदार्थो की बिक्री सहित कई समस्याओं को उठाया गया।   

                उन्होंने कहा कि रोजा इफ्तारी के समय का ऐलान और खजूर, सैवई सहित अन्य खाद्य पदार्थों की बिक्री जैसे बिंदुओं पर विचार  किया गया है।  बैठक कोतवाल सुधीर कुमार, बरिष्ट उपनिरीक्षक प्रेम राम विश्वकर्मा, व्यापार मंडल अध्यक्ष दीवान सिंह बिष्ट, मुख्तार अहमद, निसार खांन, सहित कई लोग मौजूद थे।

Post a comment

Blogger