Ads (728x90)

भिवंडी ।एम हुसेन  ।शैक्षणिक एवं साहित्यिक संस्था हम नशीं द्वारा विभिन्न विद्यालयों के अध्यापकों के बीच आशु भाषण प्रतियोगिता का आयोजन मोमिन गर्ल्स हाई स्कूल ग्राउंड स्थित  पर किया गया था।स्पर्धा में धुलिया,मालेगांव,जालना,मुंबई और भिवंडी के कुल २३ अध्यापकों ने भाग लिया। बता दें कि आशु भषण प्रतियोगिता में कार्यक्रम शुरू होने पर प्रतियोगियों को लाटरी सिस्टम द्वारा भाषण का विषय दिया जाता है। जिस पर प्रतियोगी को अपने विचार प्रस्तुत करने होते हैं।उक्त स्पर्धा में रईस हाई स्कूल की ओर से रूफी पटेल सर और जूनियर कालेज की ओर से हिना फरहीन मैडम ने भाग लिया।रूफी पटेल ने"जुदा हो दीं सियासत से तो रह जाती है चंगेज़ी " विषय पर अपना भाषण प्रभावी ढंग से प्रस्तुत किया जिसकी दर्शकों ने खूब सराहना की।निर्णायक मंडल के निर्णयानुसार रूफी पटेल सर को प्रथम पुरस्कार के लिए चयनित किया गया।इसी प्रकार हिना फरहीन मैडम ने "टेक्नालोजी ज़दा नस्ल और गुम होती अख़लाक़ी क़दरें "विषय पर अपने विचार प्रकट किये और सांत्वना का  द्वितीय  पुरस्का  प्राप्त किया।इस शानदार सफलता पर चेयरमैन शफी मुकरी,प्रधानाचार्य ज़ियाउर्रहमान अंसारी,सहायक मुख्यध्यापक मुखलिस मदू,उपप्रधानाचार्य आमिर सिद्दीक़ी,सुपरवाइज़र्स असरार पठान,महमूद बरकती,फीरोज़ुद्दीन शेख,वाईसीएमओयू के कोऑर्डिनेटर अब्दुल अज़ीज़ अंसारी सहित समस्त स्टाफ ने पुरस्कृत दोनों अध्यापकों को बधाई दी है।  

Post a comment

Blogger