Ads (728x90)

भिवंडी। एम हुसेन। भिवंडी तालुका के‌ काल्हेर गांव पंचायत सीमांतर्गत   गुरुवार के दिन सुबह चार डकैतों ने जगदीश बलीराम पाटिल के घर में घुसकर उनकी पत्नी का हाथ पांव बांधकर‌ व परिवार के अन्य सदस्यों को बंदूक की नोंक पर रखकर 60 लाख रुपए नकद के साथ 1 करोड़ 26 लाख 30 हजार रुपये के  421 तोले सोने के आभूषण इस प्रकार  कुल 1 करोड़ 86 लाख 30 हजार रुपए की डकैती कर फरार हो गये हैं  ।इस घटना से क्षेत्र में सनसनी फैली हुई हैं , इस मामले में  नारपोली पुलिस ने डकैती का मामला दर्ज कर लिया है ।
      पुलिस द्वारा प्राप्त जानकारी के अनुसार  काल्हेर गांव निवासी जगदीश बलीराम पाटिल कई गोदामों के मालिक हैं जो इन्होंने   गोदामों को  किराये  पर देकर रखा है । काल्हेर गांव स्थित बी.सी.अपार्टमेंट के पहले महले  पर अपनी पत्नी बंदना, पुत्र शुभम , पत्नी पल्लवी  व जगदीश पाटिल की मां इंदिरा के साथ रहते हैं ,जगदीश पाटिल सुबह मॉर्निंग वाक के लिए रोज की तरह सुबह घर का दरवाजा  केवल बाहर से बंद कर घर के बाहर निकल गये,उनके जाते ही चार डकैत  घर का दरवाजा खोलकर घर में घुस गये।इसके साथ पत्नी बंदना तथा पुत्री पल्लवी को धमकाते हुए कहा कि शोर मचाई तो जगदीश पाटिल को गोली मार दूंगा ,इसके साथ ही पत्नी बंदना का हाथ पांव बांधकर पल्लवी को कपाट में रखा सोने के आभूषण व नकदी निकालने की धमकी दिया, साथ ही बगल के रूम में सो रहे जगदीश पाटिल के पुत्र शुभम का भी हाथ पांव उन डकैतों ने बांधकर केवल  20 मिनट में घर में रखा 60 लाख रुपए नकद के साथ 1 करोड़ 26 लाख 39 हजार रुपये के सोने के आभूषण चोरी कर फरार हो गये हैं। इस घटना की जानकारी मिलने के बाद तुरंत नारपोली पुलिस घटना स्थल पर पहुंची ।  घटना की गंभीरता को देखते हुए  नारपोली पुलिस स्टेशन के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक मालोजी शिंदेे ने इसकी सूचना भिवंडी पुलिस उपाायुक्त राजकुमार शिदें की दी।घटना की जानकारी मिलते ही भिवंडी पुलिस उपायुक्त राजकुमार शिदे घटनास्थल का निरीक्षण किया, इसके साथ ही घटना की गंभीरता  को देखते हुए   श्वान पथक सहित अन्य जांच टीमों को घटना स्थल पर पहुंचाने का निर्देश दिया ।और शुभम पाटिल की शिकायत पर चार अज्ञात डकैतों के विरुद्ध जबरन चोरी करने तथा जान से मार देने के आरोप में मामला दर्ज कर लिया है ,  इसके साथ ही जांच के लिए  ठाणे पुलिस  आयुक्त विवेक फणसालकर के आदेशानुसार सहायक पुलिस आयुक्त नितीन कौसडीकर के नेतृत्व में आठ तथा अपराध  शाखा भिवंडी ,ठाणे , खंडणी विरोधी टीम आदि इस प्रकार  कुल 12 टीमों को  गठित कर आरोपियों को गिरफ्तार करने हेतु लगाया गया हैं।तथा काल्हेर गांव में लगे सीसीटीवी कैमरे की जांच चल रही है,  इस प्रकार की जानकारी भिवंडी पुलिस  द्वारा  दी गई  है ।



Post a comment

Blogger