Ads (728x90)

 भिवंडी।एम हुसेन । 15 लाख रूपये की  फिरौती  के लिये एक युवक का अपहरण करके उसका हाथ,पैर एवं मुंह बांधकर बंधक बनाने वाले पांच लोगों को नारपोली पुलिस ने अंबरनाथ से गिरफ्तार कर लिया है । जिसमें एक महिला  का भी  समावेश  है ,लेकिन अपहरण में शामिल छठवां आरोपी फरार है ,जिसकी तलाश पुलिस कर रही है ।पुलिस ने अपहरण कर्ताओं के चंगुल से उसे मुक्त करा दिया है।अपहरण में शामिल पांचों लोगों को पुलिस ने न्यायालय में  पेश  किया जिन्हें   न्यायालय ने  चार दिन के लिये पुलिस हिरासत में रखने का आदेश  दिया है ।
 पुलिस द्वारा प्राप्त जानकारी के अनुसार   पूर्णा के रहने वाले मो.शकील खान (35) छह फरवरी को अचानक लापता हो गये थे, जिसकी शिकायत उनकी पत्नी आस्मा खान ने नारपोली पुलिस स्टेशन में दर्ज कराया  था ।मो. शकील खान के लापता होने की शिकायत दर्ज कराने के बाद उनकी पत्नी आस्मा खान के मोबाइल पर फोन आया कि उनके पति मो.शकील खान का अपहरण कर लिया गया है, यदि उन्हें जीवित चाहती हो तो 15 लाख रूपये देने पड़ेंगे। अपहरण कर्ताओं द्वारा 15 लाख रूपये मांगे जाने की शिकायत भी उन्होंने नारपोली पुलिस स्टेशन में दर्ज करा दी थी, पुलिस इस मामले की जांच पड़ताल कर ही रही थी कि उसे मुखबिर से सूचना मिली की मो. शकील खान को अंबरनाथ के बारकुपाड़ा में वसीउल्लाह खान (22) द्वारा बंधक बनाकर रखा गया है।पुलिस ने वसीउल्लाह खान को हिरासत में लेकर जब कड़ाई से पूछताछ किया तो उसने 15 लाख रूपये की फिरौती के लिये अपहरण करने का अपराध स्वीकार कर लिया।
     नारपोली पुलिस ने वसीउल्लाह खान की  सहायता  से अंबरनाथ में छापा मारकर मो. शकील खान को उनके चंगुल से मुक्त करा दिया, जहां एक कमरे में हाथ,पैर बांधकर उन्हें बंधक बनाकर रखा गया था और कमरे के बाहर शटर में ताला लगा दिया गया था। शटर में लगाया गया  ताला टूट नहीं रहा था, जिसके लिये पुलिस को अग्निशमन दल की  सहायता  लेनी पड़ी। पुलिस ने घटनास्थल से वसीम खान नामक एक और व्यक्ति को वहां से गिरफ्तार कर लिया है।
   पुलिस ने वसीम खान से जब पूछताछ किया तो उसने बताया कि सगीर खान का पहले से मो. शकील खान का परिचय था, जिसके कारण उन्होंने  फिरौती  करने का षड़यंत्र रच करके 5 फरवरी को एक महिला द्वारा फोन कराकर मो. शकील खान को कल्याण मिलने के लिये बुलाया  गया  था,जहां से इस अपहरण में शामिल अन्य लोगों की  सहायता  से उन्हें पहले एक जंगल में ले जाकर बंधक बनाया गया था ।लेकिन जंगल से ले जाकर उन्हें अंबरनाथ स्थित एक कमरे में उनका हाथ,पैर बांधकर बंधक बना लिया था। जिन्हें छोड़ने के लिये 15 लाख रूपये की मांग की गई  थी। नारपोली पुलिस ने इस मामले में सगीर चौधरी (24) उल्हासनगर,वसीम खान (22) ग्रीन पार्क पुणे,अब्दुल कलाम खान (22) उल्हासनगर,वसीउल्लाह खान (22) अंबरनाथ एवं महिला स्वाती माली (22) उल्हासनगर को गिरफ्तार करके न्यायालय में  पेश किया गया  जिन्हें  न्यायालय ने  12 फरवरी तक पुलिस हिरासत में  रखने का आदेश  दिया है ।उक्त  आहरण में शामिल पुणे के कोंढवा का रहने वाला छठवां आरोपी सलमान फरार बताया जा रहा  है ,जिसकी तलाश पुलिस कर रही है ।इस मामले की विस्तृत  जांच पुलिस निरीक्षक रवींद्र वाणी कर रहे हैं ।

Post a comment

Blogger