Ads (728x90)

भिवंडी। एम हुसेन। भिवंडी शहर में ठेला हाथ गाडी, छोटे दुकान दारों द्वारा खुलकर राज्य शासन द्वारा प्रतिबंधित प्लास्टिक कानून का उलंघन किया जा रहा हैं,भिवंडी मनपा प्रशासन  द्वारा  प्लास्टिक संकलन केन्द्र स्थापित कर  केवल राज्य शासन का मजाक उड़ाया जा रहा  है । जिसके कारण प्लास्टिक माफियों द्वारा शहर में खुलेआम प्लास्टिक विक्री की जा रही है ।
        गौरतलब हो कि पूर्व पर्यावरण मंत्री राम दास कदम गत वर्ष भिवंडी के सोनाले गांव में प्लास्टिक कारखानों पर छापा मारकर लाखों टन प्लास्टिक व प्लास्टिक थैली निर्माण करने वाली मशीनें जब्त की थी, उस दरम्यान प्लास्टिक थैली विक्री करने वाले दुकान दारों को धडपकड़ करने के लिए मनपा प्रशासन ने पथक का गठन किया था । इसके साथ ही सभी प्रभागों में प्लास्टिक थैली संकलन केन्द्र की स्थापना मनपा आयुक्त द्वारा किया गया था परंतु   समय के साथ मनपा प्रशासन भी सबकुछ भूल सी गई ? जिसके कारण इस अवैध धंधे में लिप्त माफियाओं ने अपना जाल शहर में पुनः  स्थापित करना शुरू कर दिया तथा बेखौफ होकर प्लास्टिक की विक्री करने लगे  हैं।
     प्राप्त  जानकारी के अनुसार नारपोली पुलिस स्टेशन के पी.एस.आय. विजय सिरसाट ने अपने दल बल के साथ वाहन चेंकिग के लिए अंजूर फाटा परिसर में नाका बंदी किया  था । इस नाकाबंदी के दरम्यान राज्य सरकार द्वारा प्रतिबंधित प्लास्टिक थैली से भरे टेंपो को पुलिस ने पकड़ा,और इसकी सूचना पुलिस ने भिवंडी मनपा प्रशासन को दी । सूचना मिलते ही प्लास्टिक निर्मुलन पथक प्रमुख ईश्वर लिंगय्या आडेप अपने पथक टीम के साथ मौके पर  पहुंच कर टेंपो क्रमांक MH04-HY 7912 में लदा 990 किलों राज्य शासन द्वारा प्रतिबंधित प्लास्टिक की  थैली की जानकारी मनपा आयुक्त डाॅ. प्रवीण आष्टीकर को दी । मनपा आयुक्त के आदेशानुसार 990 किलों प्लास्टिक जब्त कर लिया गया है । उक्त अवसर पर  नारपोली पुलिस स्टेशन के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक मालोजी शिंदे, पुलिस उप निरीक्षक विजय सिरसाट, प्लास्टिक निर्मुलन पथक सदस्य अरुण कदम,नितीन पाटिल ,मोहन जाधव,प्रमोद जाधव आदि मनपा कर्मचारी उपस्थित थे ।

Post a comment

Blogger