Ads (728x90)

 भिवंडी ।एम हुसेन। भिवंडी के गैबीनगर स्थित रहीम बिल्डिंग का रहने वाला दिव्यांग फैसल मंसूर शेख  जो लगभग पूर्व  चार महीने से घर से गायब था, सोशल मीडिया के माध्यम से गायब होने के चार महीने बाद खारघर से मिलने पर उसके पिता मंसूर शेख ने पुलिस उपायुक्त राजकुमार शिंदे सहित शांतिनगर एवं कल्याण की बाज़ार पेठ पुलिस के प्रति आभार व्यक्त किया है। फैसल शेख के लापता होने की शिकायत कल्याण के बाज़ार पेठ पुलिस ने 26 सितंबर को दर्ज किया था ।
    गौरतलब है  कि दिव्यांग फैसल शेख (16) के पिता मंसूर शेख बिल्डिंग मटेरियल की सप्लाई का काम करते हैं, फैसल शेख जन्म से गूंगा एवं बहरा है ।जिसके कारण न तो वह बोल सकता था और न ही सुन सकता था, उसने शानदार मार्केट स्थित कर्ण वधिर विद्यालय में सातवीं तक पढ़ाई की है ।मंसूर शेख ने बताया कि फैसल प्रायः उनके साथ कल्याण सहित आसपास के इलाकों में जाता रहता था, 26 सितंबर की सुबह वह कल्याण जल्दी चले गये थे, लगभग आठ बजे जब वह सोकर उठा और अपने पिता मंसूर शेख को घर पर नहीं देखा तो वह सीधे कल्याण चला गया।लेकिन उसकी मुलाकत मंसूर शेख से नहीं हुई।26 सितंबर को बारिश होने के कारण वह भीग गया था ,जिसके कारण कल्याण के रेतीबंदर के पास रहने वाले अपने चाचा मतलूब शेख के घर पर चला गया था। वहां कुछ देर रहने के बाद अपने चाचा से भिवंडी वापस आने के लिये 100 रुपया लेकर निकला, लेकिन 26 सितंबर के बाद फिर वापस घर नहीं पहुंचा।मंसूर शेख सहित उनके परिवार वालों ने उसकी काफी तलाश की, जब वह नहीं मिला तो कल्याण के बाजारपेठ पुलिस स्टेशन में उसके गायब होने की शिकायत दर्ज करा दिया । मंसूर शेख ने फैसल के बारे में कोई जानकारी मिलने पर उनके फोन नंबर -8485069140 पर संपर्क करके जानकारी देने का अनुरोध किया  था , लेकिन पुलिस द्वारा काफी खोजबीन करने के बाद भी फैसल शेख का कोई पता नहीं चला ।
  दिव्यांग बेटे के गायब होने से परेशान मंसूर शेख ने समाजसेवक पं.कपिलदेव मिश्रा से संपर्क करके पुलिस उपायुक्त राजकुमार शिंदे से मिलकर फैसल शेख को खोजने का अनुरोध किया ।जिसके लिये पुलिस उपायुक्त राजकुमार शिंदे ने शांतिनगर पुलिस की दो टीम बनाई थी ।इसके अलावा उन्होंने कल्याण परिमंडल तीन के पुलिस उपायुक्त सहित बाज़ार पेठ पुलिस से भी दिव्यांग फैसल शेख को खोजने का अनुरोध किया था ।पुलिस उपायुक्त राजकुमार शिंदे सहित शांतिनगर एवं कल्याण पुलिस द्वारा फैसल शेख के बारे में सोशल मीडिया पर  वायरल कर दिया गया था ।लगभग चार महीने बाद वाट्सअप देखने के बाद मंसूर शेख के मोबाइल नंबर पर फोन आया कि फैसल शेख खारघर में है । मोबाइल से सूचना मिलने पर फैसल शेख 20 जनवरी को खारघर में मिला। चार महीने बाद गायब दिव्यांग बेटे के मिलने पर मंसूर शेख भिवंडी के पुलिस उपायुक्तालय पहुंचे, जहां उन्होंने पुलिस उपायुक्त राजकुमार शिंदे से मिलकर पुलिस के प्रति आभार व्यक्त किया । इस दौरान पुलिस उपायुक्त राजकुमार शिंदे ने चार महीने से गायब फैसल शेख को मिठाई खिलाई ।|
 इस संदर्भ में  राजकुमार शिंदे-पुलिस उपायुक्त ,भिवंडी ने बताया कि दिव्यांग फैसल शेख के गायब होने के बाद सोशल मीडिया पर डालने के बाद शांतिनगर पुलिस की दो टीम बनाई गई थी हमारी टीम के अथक प्रयासों से फैसल शेख अपने माता-पिता को मिल गया है जो खुशी के साथ ही सफलता है।  

Post a comment

Blogger