Ads (728x90)

भिवंडी।  एम हुसेन ।  जिला कृषी विभाग ,भिवंडी तालुका कृषी विभाग  द्वारा  संयुक्त  रूप से  जागतिक मृदा दिन व राष्ट्रीय शाश्वत खेेेेती अंतर्गत  किसान सम्मेेलन  पिसे चिराडपाडा  स्थित  संपन्न हुआ । जागतिक मुद्रा दिन के उपलक्ष्य में किसानों को खोती  की व इसके साथ  मिट्टी की गुुुणवत्ता इस  विषय पर एक  किसान सम्ममेलन का आयोजन किया गया था ।खेेती के लिए  केेेवल धान  की खेती न करते हुए अन्य प्रकार के बीज आपको अपने  खेत में  डालना चाहिए  व कोंकण के किसान केेेवल  धान की खेती पर  ननिर्भर न रहते हुए यह मूग ,हरभरा व      इसके साथ ही अन्य  बीज  का प्रयोग करना चाहिए  ,किसानों को माही विषयी योग्य  जानकारी  मिलना अति  आवश्यक है।किसानों को  मृदा जांच का महत्व ,मृदा आरोग्य पत्रिका वाचन ,संतुलित खाद
 का  प्रयोग  करके शाश्वत , शास्रोक्त व पर्यावरण पुरक  खेती  करना , महिला बचत गट  तथा कृषी विभाग  की विविध योजनाओं की समूची  जानकारी  दी गई है।उक्त अवसर पर  इस कार्यक्रम  में पंचायत समिति की उपसभापती  श्रीमती . विशे मेडम, शास्त्रज्ञ श्री.मर्दाने साहेब, श्री भुतावले कृषी पर्यवेक्षक , जि.मृ.चा.प्र.शा.ठाणे, मा.गणेश बांबले ,
तालुका कृषी अधिकारी भिवंडी , श्रीम. दयावंती कदम ,मंडल कृषी अधिकारी, कृषी पर्यवेक्षक के एल गायकवाड ,कुरकुरे
 कृषी सहायक पी.जी. निकम राठोड, निले चाविंद्रा व कर्मचारी वर्ग उपस्थित  थे ।इसी के साथ
 कार्यक्रम के अंत में   जागतिक मृदा दिन की प्रतीज्ञा  ली गई  ।

Post a comment

Blogger