Ads (728x90)

भिवंडी । एम हुसेन। भिवंडी  तालुका के पडघा से  सटे  बोरिवली गांव  में  कसाईं  द्वारा    सलाटरिंग के लिए  छह गोवंशीय जनावर लाए गए थे जिसे गोरक्षक कार्यकर्ताओं ने पुलिस की  सहायता से  मुक्त  कराया है तथा एक जनावर का  मांस  भी जब्त  करने की  घटना गुरुवार सुबह  घटित हुई है।परंतु  इस कार्रवाई के दरम्यान अंधेरे का  लाभ उठाकर कसाई फरार होने में  सफल  हुआ है। 
        बता दें कि पडघा - बोरिवली  स्थित  पानी की टंकी के समीप  एक कच्चे शेड में  स्थानिक कसाईं ने  गोवंशीय जनावर  सलाटरिंग  लाकर  बांध रखा था  इसकी  जानकारी  बजरंग दल भिवंडी के  संयोजक राहुल जुकर  को  प्राप्त हुई थी। जिसके अनुसार  इन्होनें  अपने  सहकारी गोरक्षक प्रमुख संजय सोनी,समीर पटेल,मोनीश माने,सूरज केसरवानी,शुभम शृंगारवार,अक्षय मास्टर आदि के साथ   पडघा पुलिस स्टेशन  पहुंचे और  गोवंश जानवरों की जानकारी  पुलिस को दी ।जानकारी  मिलने के पश्चात  राहुल जुकर के साथ  पुलिस  उपनिरीक्षक राहुल नलकांडे अपने पथक को लेकर   सुबह  छह  बजे  घटनास्थल पर पहुंचे ।परंतु  पुलिस की भनक लगते ही वहां से  अज्ञात कसाई फरार  हो गए। इस समय पडघा पुलिस ने  घटनास्थल से  एक गाय पांच बैल इस प्रकार  छह गोवंशीय जनावर को  अपने  कब्जे में  ले लिया तथा एक   गोवंश जनावर का मांस  जब्त कर लिया है।  उक्त  घटना प्रकरण में  अज्ञात कसाईं के विरुद्ध  गोवंश अत्याचार प्रतिबंधक कायद्यानुसार  मामला दर्ज कर लिया है ।और  मुक्त  कराए गए  जीवंत गोवंश जनावर को अनगांव  स्थित  गौशाला में  भेज दिया गया है तथा पुलिस फरार  होने वाले  कसाईं को  तलाश कर रही है  ।

Post a comment

Blogger