Ads (728x90)

भिवंडी । एम हुसेन   । भिवंडी शहर महानगरपालिका के  कार्यक्षेत्र में  अधिक  संख्य में  संपत्ति  धारक ,व्यावसायिक ,नागरिक  गृृृह कर ,जल कर ,संपत्ति  कर  का समय से  भुगतान नहीं करते हैं।जिसकारण   मनपा की आर्थिक परिस्थिति  खराब  चल रही  है  परिणाम स्वरुप   शहर  की अवस्था  अति खराब हो गई है।गौरतलब है कि व्यापारी,रहिवासी ,नागरिक ,कारखाना धारकों के पास करोड़ों रूपये कर  का बकाया है  । निष्क्रिय  मनपा अधिकारी, कर्मचाऱियों की घोर लापरवाही के कारण  संपत्ति  कर वसूल करने के लिए  मनपा प्रशासन असमर्थ  साबित   हो रहा है। इसलिए  मनपा आयुक्त ने  उपायुक्त सहित  अधिकाऱियों की बैठक  लेकर  गृह कर की लिस्ट निकाली है और  बकाया  कर की रकम वसूल करने के लिए करदाता , नागरिकों के लिए अभय योजना  की घोषणा की है। इसलिए  नागरिक इस योजना का लाभ  उठाएं  इस प्रकार का आवाहन महापौर श्रीमती  प्रतिभा विलास पाटील  एवं  मनपा आयुक्त डॉ. प्रविण आष्टीकर  ने किया है।
      गौरतलब है कि   भिवंडी  मनपा क्षेत्र १  से  ५ प्रभाग समिति कार्यालय कार्यरत है,यहां के रहने  वाले  रहिवासी,व्यावसायिक वर्ग, बड़े पैमाने पर  कर  का भुगतान  नहीं किये हैं जिसकारण   प्रभाग १- १२९  करोड ७५ लाख,४० हजार ६६१ रूपये,प्रभाग २,- ८१ करोड़  ३३ लाख ७३ हजार ७९ रुपये , प्रभाग ३ - ७० करोड़  ७६ लाख ,४४१रुपये ,प्रभाग ४ - ५७ करोड़ ७७ लाख,८९ हजार ५७९ रुपये , प्रभाग समिति ५ - ४२ करोड़,५५ लाख,२८ हजार १६१ रूपये इस प्रकार कुल  ३८२ करोड़,१८ लाख ,३१ हजार ९२१ रुपये कर  बकाया हो गया है।  इस  बकाया  कर को वसूल करने के लिए तत्कालीन आयुक्त मनोहर हिरे  ने  प्रभारी उपायुक्त वंदना गुलवे  सहित  ९ कर्मचाऱियों का विशेष पथक नियुक्त किया था ।परंतु  कर की  बकाया रकम वसूल करने में यह पथक  सफल नहीं हुआ है  ,इसलिए  मनपा आयुक्त डॉ.प्रविण आष्टीकर  ने  कुछ दिन पहले ही  इस पथक की  क्लास ली   और करदाता  नागरिकों द्वारा  कर वसूली करने के लिए अभय योजना  की घोषणा की है। इस  योजना के अनुसार नागरिक  बकाया  संपत्ति  कर को  माह १०  दिसंबर  २०१९  से   ३१ जनवरी २०१२०  तक भुगतान करने पर १००  प्रतिशत  ब्याज  माफ  किया जाएगा  ।१ फरवरी २०२०  से  २८ फरवरी २०२०  तक ७५ प्रतिशत  ,१  से  ३१ मार्च २०२०  तक  कर का भुगतान  करने पर  ५० प्रतिशत ब्याज   माफ किया जाएगा।इसलिए शहर वासियों के लिए  बकाया  संपत्ति  कर का भुगतान करके  चिंता मुक्त  हो जाएं  इसलिए  अभय योजना शुरु  की गई है।   इस प्रकार की  प्रतिक्रिया महापौर श्रीमती   प्रतिभा विलास  पाटील ने व्यक्त की है।

Post a comment

Blogger