Ads (728x90)

समस्त्तीपुर, बिहार ( मोहम्मद जमशेद ) जिले के कल्याणपुर थाना में पुलिसिया जुल्म के खिलाफ शांतिपूर्ण विरोध प्रदर्शन एवं अनशन का आयोजन किया गया । जानकारी के अनुसार रविवार को कल्याणपुर प्रखंड के थाना भवन के सामने पूर्व नियोजित पूर्व सूचित शांतिपूर्ण विरोध प्रदर्शन एवं अनशन का आयोजन किया गया।
प्रखंड के पुरुषोत्तमपुर पंचायत के बखरी गांव में अनुसूचित जाति एवं जनजाति अत्याचार अधिनियम को हथियार बनाकर गलत तरीके से फर्जी मुकदमे में सम्मानित किसानों को फसाया जा रहा है।
पूर्व से सात लोगों पर इस अधिनियम के अंतर्गत फर्जी मुकदमे किए जा चुके हैं।
दिनांक 18 नवंबर 2019 को श्री राजीव रंजन शर्मा एवं श्री राम प्रवेश शर्मा पर इस अधिनियम का भय दिखाकर जानलेवा प्रयास मारपीट एवं जमीन कब्जा करने की कोशिश की घटना हुई है।
इन दोनों किसानों का इलाज कराकर इन की जान बचाई गई, इसकी सूचना स्थानीय थाने को लिखित रूप में दी गई।
किंतु कई दिन बीत जाने के बाद भी पुलिस एवं प्रशासन द्वारा संतोषजनक संज्ञान नहीं लिए जाने के कारण प्रखंड के सैकड़ों किसानों ने विरोध प्रदर्शन के लिए इस शांतिपूर्ण अनशन का निर्णय लिया।
सेवानिवृत्त प्रोफेसर मदन मोहन ठाकुर, श्री विवेकानंद सिंह, श्री कैलाश शर्मा, श्री जितेंद्र ठाकुर, श्री अनिल चौधरी, श्री सत्यनारायण राय एवं श्री हेमचंद्र झा ने एक स्वर में किसानों पर हो रहे अत्याचार की भर्त्सना की और कहा कि यह अनशन पहला है आखिरी नहीं।
इस विरोध प्रदर्शन एवं अनशन के संयोजक वरुणेश विजय ने कहा की हरिजन एक्ट को हथियार बनाकर अगर स्वर्ण किसानों को फर्जी मुकदमे में फसाया गया अथवा धमकी दी गई तो इसका पुरजोर विरोध होगा।
समाजसेवी संजय कुमार बबलू ने कहा कि किसानों के हक की लड़ाई सड़क से लेकर न्यायालय तक लड़ी जाएगी।
मौके पर उपस्थित राजीव चौधरी, हेमंत ऋतु, झुनझुन ठाकुर, टुन्नु ठाकुर, रामसखा ठाकुर एवं अंकेश आर्यन ने पीड़ित किसानों को विश्वास दिलाया जब जब सवर्ण किसानों पर अत्याचार होगा, समाज किसानों के साथ खड़ा रहेगा।

Post a comment

Blogger