Ads (728x90)

शिवसेना के पूर्व विधायक ने आपत्ति जताते हुये किया उड़ान पुल का शुभारंभ । 

 भिवंडी । एम हुसेन । भिवंडी में अधूरे उड़ान पुल का शुभारंभ  करने का सिलसिला बढ़ते जा रहा है,मुंबई-नासिक हाइवे पर मानकोली के अधुरे उड़ान पुल को शुरू करने के बाद राजनोली नाका के भी अधूरे उड़ान पुल को शुरू कर दिया गया था। लेकिन उसके बाद शनिवार की सुबह एमएमआरडीए द्वारा एक षड़यंत्र के तहत साईबाबा नाका अधूरे उड़ान पुल को बिना किसी औपचारिकता के शुरू कर  दिया गया है ।जिसके कारण पहले से ही यातायात बाधित  की समस्या झेल रहे कल्याण नाका पर बाधित  की समस्या और भी बढ़ जाने की संभावना है।
     शिवसेना के पूर्व विधायक रुपेश म्हात्रे ने आपत्ति जताते हुये एमएमआरडीए के अधिकारियों से पूछा कि जब इस उड़ान पुल का नामकरण स्व. बालासाहेब ठाकरे के नाम पर करने का प्रस्ताव पास किया गया है तो इतनी जल्दबाजी में उड़ान पुल को क्यों शुरू कर दिया गया? जिसके बाद पूर्व विधायक रुपेश म्हात्रे ने सैकड़ों की संख्या में उपस्थित  शिवसैनिकों के साथ नारियल फोड़कर एवं फीता काटकर अधूरे उड़ान पुल का शुभारंभ कर दिया है।इस दौरान मनपा में शिवसेना के गटनेता संजय म्हात्रे,सुंदर नाईक,राम लहारे,विसू भाऊ म्हात्रे,वैशाली मेस्त्री,दिलीप नाईक सहित अन्य पदाधिकारी व कार्यकर्ता भारी संख्या में शिवसैनिक उपस्थित  थे ।जिन्होंने बाला साहेब ठाकरे का झंडा एवं बैनर लगाकर उड़ान पुल को शुरू कर दिया ।   
 बतादें कि भिवंडी स्थित कल्याण रोड पर यातायात बाधित की समस्या से निजात दिलाने के लिये कल्याण नाका से साईबाबा नाका तक उड़ान पुल बनाने का काम एमएमआरडीए को दिया गया है, जिसका 2014  में तत्कालीन मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस द्वारा भूमिपूजन किया गया था। उड़ान पुल की रूपरेखा तीन बार बदलने एवं काफी धीमी गति से निर्माण कार्य होने के कारण छह वर्षों बाद  भी उड़ान पुल का काम पूरा नहीं हो सका है । कल्याण नाका स्थित राजीव गांधी उड़ान पुल से इस उड़ान पुल को जोड़ने का काम चल ही रहा है कि एमएमआरडीए द्वारा वरिष्ठों के दबाव में शनिवार की सुबह आनन-फानन में अचानक बिना किसी औपचारिकता के शुरू कर  दिया गया है।
  साईबाबा नाका से इस उड़ान पुल से होकर जाने पर दांडेकर कंपनी के सामने नीचे जाने के बाद बायें होकर लाहोटी कंपाउंड  के सामने से फिर उसी कल्याण रोड से जाना पड़ रहा है।जिसके कारण पहले से ही जाम की समस्या से दो-चार हो रहे लाहोटी कंपाउंड  से लेकर कल्याण नाका तक जाम की समस्या जहां बढ़ गई है, वहीं दांडेकर कंपनी के सामने से अभ्युदय बैंक के सामने से गलत दिशा से जाने वाले वाहनों की संख्या भी बढ़ गई है, जिसके कारण दोनों तरफ लोगों को यातायात बाधित  की समस्या से परेशान होना पड़ रहा है।   
  गौरतलब हो कि मनपा द्वारा इस उड़ान पुल का नामकरण स्व. बालासाहेब ठाकरे के नाम पर करने का प्रस्ताव पास किया गया है ।रविवार को स्व.बालासाहेब ठाकरे की जयंती के अवसर पर साईबाबा नाका उड़ान पुल का नामकरण उनके नाम पर किया जाना था।जिसके कारण राजनैतिक दबाव के चलते एमएमआरडीए के अधिकारियों को बलि का बकरा बनाते हुये शनिवार की सुबह ही बिना किसी तामझाम के उड़ान पुल आम नागरिकों के लिये खोल दिया गया है। 
 इस संदर्भ में  पूर्व विधायक, विधानसभा  पूर्व भिवंडी रूपेश म्हात्रे ने कहा कि 
उड़ान पुल शुरू करने का केवल श्रेय लेने के लिये एमएमआरडीए के अधिकारियों द्वारा आनन-फानन में शुरू करा दिया गया है । यह सबको मालूम है कि वंजारपट्टी नाका उड़ान पुल,साईबाबा नाका उड़ान पुल,मुंबई-नासिक हाइवे स्थित मानकोली एवं राजनोली नाका उड़ान पुल की मांग किसने किया था।उन्होंने श्रेय लेने वाले का  नाम लिये बिना 2014 के पहले उड़ान पुल के लिये किसने पत्र व्यवहार किया था , इस  प्रकार की प्रतिक्रिया व्यक्त की है। 


Post a comment

Blogger