Ads (728x90)

 इटावा : अपनी पत्नी की हत्या के मामले में न्यूज़ एंकर पति समेत 3 लोग गिरफ्तार किए गए हैं. न्यूज़ चैनल में काम करने वाली एक महिला पत्रकार से संबंधों के चलते हत्या की वारदात को अंजाम दिलाया गया. करीब 8 माह से दिव्या और अजितेश के बीच महिला पत्रकार से संबंधों को लेकर विवाद चल रहा था. महिला पत्रकार और एंकर भावना आर्या के चैनल से रिजाइन करने के बाद अजितेश ने भी 30 सितम्बर को एफ.एम. चैनल से रिजाइन कर दिया था.

अजितेश के साथ काम करने वाले एम.एफ. न्यूज़ चैनल के पत्रकार अखिल सिंह ने हत्या की वारदात को अंजाम दिया. अखिल सिंह दिव्या का मुंहबोला भाई बन कर रहता था. नोएडा में दिव्या से राखी भी बंधवा चुका है. दिव्या के मोबाइल ने हत्या का राज खोला.

शादी के चार साल बाद दिव्या को बच्चा न होना भी हत्या की वजह में से एक है. दिव्या मिश्रा हत्याकांड का घटना के चौथे दिन इटावा पुलिस ने खुलासा कर दिया. 14 तारीख की दोपहर 2 से 3 बजे के बीच दिव्या मिश्रा की घर के अंदर निर्ममता पूर्वक हत्या कर दी गई थी.

हत्या के बाद प्रथम दृष्ट्या किसी नज़दीकी द्वारा घटना को अंजाम देने का अनुमान लगाया जा रहा था. इस हाई प्रोफाइल केस में पुलिस को जांच में दिव्या के पति न्यूज़ एंकर अजितेश मिश्रा द्वारा हत्या कराये जाने का पता चला. इसके बाद पुलिस ने तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया.

अपनी पत्नी दिव्या मिश्रा की हत्या कराने वाला एंकर अजितेश एफएम न्यूज नामक एक प्राइवेट चैनल में कार्य करता था. एफएम न्यूज, नोएडा में ही उसकी प्रेमिका न्यूज एंकर काम करती थी और दोनों शादी रचाना चाहते थे. इसीलिए उसने अपनी पत्नी की हत्या करवा दी. इस काम के लिए एंकर ने नोएडा से अपने एक साथी अखिल उर्फ अखिलेश सिंह को हत्या करने के लिए भेजा था.

पुलिस ने हत्या के आरोप में न्यूज एंकर अजितेश मिश्रा, उसकी प्रेमिका एंकर भावना आर्या और हत्या करने वाले अखिल को गिरफ्तार कर लिया है. तीनों लोग एफएम न्यूज चैनल में साथ काम करते थे.

इटावा के दिव्या मिश्रा हत्याकांड का खुलासा होने के बाद हर तरफ चर्चाओं का बाजार गर्म हो गया है. टीवी एंकर अजितेश मिश्रा, सहयोगी महिला पत्रकार भावना आर्या और हत्यारे अखिल उर्फ अखिलेश को गिरफ्तार कर इटावा में मीडिया के सामने पेश किया गया. 

Post a comment

Blogger