Ads (728x90)

संवाददाता, भिवंडी ।भिवंडी तालुुका के महालुंगे ,गोठणपाडा स्थित गत दिनों सायंकाल  काम करकेे वापस घर  आरही  आदिवासी विवाहित महिला को नराधम ने रास्ते में रोक कर उसे निर्जनस्थल लेजाकर उसके साथ  बलात्कार कर के उसी की साडी से गला दभाकर निर्मम हत्या कर दिया है।उक्त सनसनीखेज घटना घटित हुए तीन दिन बीत जाने के बाद भी अभी तक  आरोपी को पकडने में पुलिस असफल सााबि हुई है। इसलिए उक्त घटना का निषेध करने के लिए श्रमजीवी संघटना द्वारा भिवंडी तहसील कार्यालय पर सैकड़ों महिलाओं ने आक्रोश मोर्चा निकालकर आरोपी को तत्काल प्रभाव से गिरफ्तार करने की मांग करते हुए रास्ते पर बैैठकर  आंदोलन किया और तहसीलदार कोो  ज्ञापन सौंपा। 
             गौरतलब है कि गोठणपाडा स्थित प्रिती दिलीप भावर ( २९ ) नामक  महिला १५ सितंबर  को सायंकाल ७.३० बजे के समय वालिव ,वसई स्थित कंपनी से काम कर के आने वाली महिला महालुंगे बस स्टॉप से  घर  जा रही थी। उसी समय निर्जन रास्ते पर नराधम ने उसे पकडकर झाडी में लेजाकर  बलात्कार करके उसी की  साडी  से गला दबाकर हत्या कर दिया। उक्त घटना के बाद संपूर्ण ठाणे जिला में हडकंप मचा हुआ है, घटना को गंभीरता पूर्वक संज्ञान में लेते हुए गणेशपुरी पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है परंतु तीन दिन बीत जाने के बावजूद  अभी तक आरोपी को पकडने में पुलिस असफल है। जिसकारण नाराजगी जताते हुए श्रमजीवी संघटना की महिला आघाडी जिला प्रमुख जया पारधी, किसान सेल की जिला प्रमुख संगीता भोमटे के नेतृत्व में सैकडों महिला व श्रमजीवी कार्यकर्ताओं ने निषेध की घोषणा करते हुए बुधवार को दोपहर के समय भिवंडी तहसील कार्यालय पर भव्य मोर्चा निकालकर आक्रोश व्यक्त किया है।श्रमजीवी संघटना के कार्ययकर्ताओं ने  आदिवासी कष्टकरी, ढोर नाय,माणूस हाय ! माणूसकी की भिक नको,हक्क हवा ,हक्क हवा !! इस प्रकार की घोषणा करते हुए परिसर में हंगामा किया,उक्त अवसर पर मृत प्रिती भावर नामक आदिवासी महिला पर बलात्कार कर के उसकी हत्या करने वाले आरोपी को तत्काल प्रभाव से गिरफ्तार करने  , इस मामले को फास्ट ट्रॅक कोर्ट में चलाकर मृत्यु दंड दिया जाए,महिलाओं पर हो रही अत्याचार की घटनाओं को रोकने के लिए स्कूल ,महाविद्यालय ,बस स्टॉप व कंपनी आस्थापना में पुलिस गश्त शुरु कराया जाए  ,महिलाओं पर होनेवाले अत्याचार पर अंकुश लगाने के लिए  पुलिस पाटील व तंटामुक्त समिती प्रमुखों को विशेष अधिकार दिया जाए इस प्रकार की विविध मांगों पर आधारित ज्ञापन मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस को तहसीलदार शशिकांत गायकवाड को श्रमजीवी संघटना के शिष्टमंडल ने सौंपा है।उक्त अवसर पर प्रदेश प्रमुख सचिव बालाराम भोईर ,जिला सचिव अनिता वाघे ,तालुका प्रमुख वैशाली पाटील ,स्वाती शिंदे ,कविता कदम ,आशा भोईर ,लक्ष्मी मुकणे ,कमल जाधव आदि महिला पदाधिकारी सहित श्रमजीवी कार्यकर्ता भारी संख्या में उपस्थित थे।           

Post a comment

Blogger