Ads (728x90)

तहसील कार्यालय का लाइट,पंखा चलता रहा।

 संवाददाता, भिवंडी । भिवंडी तहसील कार्यालय के कर्मचारियोंं ने अपनी प्रलंबित मांगों के लिए एक दिन की छुट्टी लेकर काम बंद आंदोलन किया।  लेकिन तहसीलदार कार्यालय खुला रहा और वहां बिना किसी कर्मचारी के बैठे लाइट,पंखा चलता रहा, वहीं अपने कामकाज के लिए दूरदराज से आने वालों को निराश होकर वापस जाना पड़ा।
 तहसील कर्मचारियों द्वारा एक दिन की छुट्टी लेकर किए गए  इस काम बंद आंदोलन के कारण भिवंडी के दूरदराज क्षेत्रों से सरकारी कामकाज के लिए तहसीलदार कार्यालय में आने वालों को निराश होकर वापस बैरंग जाना पड़ा है।  तहसील कर्मचारियों के आंदोलन के साथ ही ग्रामसेवकों ने भी काम बंद आंदोलन किया था। जिसके कारण तहसील कार्यालय से लगे पंचायत समिति कार्यालय में अपने काम के लिए आए लोगों को भी वापस जाना पड़ा। क्योंकि ग्रामसेवकों के आंदोलन की किसी को भी कोई जानकारी नहीं थी। जिससे लोगों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ा है।
  तहसीलदार कार्यालय के किसी भी टेबल पर कोई कर्मचारी नहीं था फिर भी कार्यालय के सभी लाइट,पंखे दिनभर चलते रहे। आंदोलन के दौरान कर्मचारियों ने बिजली की बर्बादी पर भी कोई ध्यान नहीं दिया। बिजली की कमी के चलते सरकार द्वारा एक तरफ ऊर्जा की बचत करने का संदेश दिया जा रहा है, वहीं दूसरी तरफ अनेक कार्यालयों में बिना किसी आवश्यकता के इसी प्रकार से बिजली की बर्बादी की जा रही है।    

Post a comment

Blogger