Ads (728x90)

संवाददाता, भिवंडी ।मनपा जलापूर्ति विभाग की लापरवाही के कारण शहर के विभिन्न क्षेत्रों में जहां अनियमित जलापूर्ति की जा रही हैं। वहीं शहर के कई क्षेत्रों में मटमैला एवं दूषित जलापूर्ति की जा रही हैै। शहर में की जा रही दूषित जलापूर्ति की ओर मनपा सहित नगरसेवकों का ध्यान नही है। जिसका परिणाम नागरिकों के स्वास्थ्य पर पड़ रहा है।
    पिछले दिनों हुई मूसलाधार बरसात  के कारण शहर के विभिन्न क्षेत्रों में जलजमाव हो गया था, कई क्षेत्रों में सड़कों के किनारे अभी भी कीचड़ युक्त पानी जमा हुआ है। गड्ढे में जमा बरसात का गंदा एवं दूषित पानी वहां से गई मनपा की टूटी हुई पाइप लाइन में जा रहा है। शहर के विभिन्न क्षेत्रों में इस प्रकार के सैकड़ों जगहों पर मनपा की पाइप लाइन टूटी हुई है। शहर के कुछ क्षेत्रों में पिछले कई वर्षों से वराला तालाब से जलापूर्ति किया जा रहा था। दरगाह रोड,आजमीनगर एवं न्यू गौरीपाड़ा सहित अन्य क्षेत्रों में जलापूर्ति करने के लिये मनपा द्वारा नई पाइप डालने की योजना आवश्यक थी। मनपा द्वारा नई बस्तियों के लिये बनाई गई पानी टंकी में पानी भरकर उसकी जलापूर्ति करना संभव था। लेकिन मनपा द्वारा नई पाइप लाइन डालने के बजाय वराला तालाब की पाइप लाइन से ही मुंबई मनपा से मिलने वाले जलापूर्ति को जोड़ कर के नई बस्तियों में जलापूर्ति शुरू कर दिया गया है। मुंबई मनपा से मिलने वाला पानी भी जगह-जगह पाइप लाइन टूटने के कारण दूषित हो गया है। जिसके कारण उस पाइप लाइन से शहर के विभिन्न क्षेत्रों में दूषित जलापूर्ति किया जा रहा है। सूत्र बताते हैं कि वराला तालाब के मुख्य पाइप लाइन से मुंबई मनपा का दूषित पानी छोड़े जाने के कारण पूरा पानी दूषित हो गया है। यही कारण है कि पूरे शहर में दूषित जलापूर्ति हो रही है।
  इसके अलावा मनपा जलापूर्ति विभाग के अधिकारियों की मिली भगत से शहर में कई जगहों पर अवैध नल कनेक्शन लिये जाने के बाद उसे अधूरा छोड़ दिये जाने के कारण भी उससे दूषित जलापूर्ति हो रही है। दूषित पानी के कारण शहर में विभिन्न प्रकार की संक्रामक बीमारियों का प्रकोप बढते जा रहा है।  मनपा द्वारा की जा रही दूषित जलापूर्ति को लेकर एनजीओ ऑपरेशन मुक्त भिवंडी के अध्यक्ष डॉ.शफीक अहमद सिद्दीकी ने शहर के विभिन्न क्षेत्रों में टूटी पाइप लाइन की मरम्मत कराने एवं दूषित जलापूर्ति के लिये कोई ठोस उपाय योजना करने की मांग मनपा आयुक्त से की है। शहर में हो रही दूषित जलापूर्ति के संबंध में जलापूर्ति विभाग के अभियंता संदीप पटनावर से संपर्क करने पर किसी प्रकार का कोई उत्तर नहीं मिला है। 

Post a comment

Blogger